Create
Notifications

फील्डिंग स्तर में सुधार के लिए अभ्यास सत्र में 100 से अधिक कैच पकड़ता हूँ: अजिंक्य रहाणे

Rahul
SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018
भारत और श्रीलंका के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच के बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड के लिए इस मैच के हीरो रहे चेतेश्वर पुजारा ने अपने साथी ख़िलाड़ी अजिंक्य रहाणे का इंटरव्यू लिया, जिसमें पुजारा ने उनकी स्लिप फील्डिंग में लगातार सुधार होने का कारण पूछा। रहाणे ने भी अपने शुरूआती दिनों को याद करते हुए इस सवाल का जवाब मजाकिया अंदाज़ में दिया। पुजारा के द्वारा स्लिप फील्डिंग को लेकर किये गए सवाल पर रहाणे ने कहा, "मुझे याद है कि मैं बचपन में स्लिप में बहुत ज्यादा कैच छोड़ता था और मैंने सोचा मेरा यह फील्डिंग स्तर सही नहीं है। मुझे अच्छा नहीं लगता था जब मुझे स्लिप से हटाकर किसी दूसरी जगह पर फील्डिंग के लिए भेज दिया जाता था। यह बात मुझे अच्छी नहीं लगी और मैंने अपनी स्लिप फील्डिंग पर ज्यादा ध्यान देना शुरू किया।" अजिंक्य रहाणे भारतीय टीम के सबसे सुरक्षित स्लिप फील्डरों में से एक माने जाते हैं। टेस्ट मैचों में वह भारत के लिए स्लिप में ही फील्डिंग करते नजर आते हैं और कप्तान कोहली का भी स्लिप फील्डिंग को लेकर भरोसा उन पर कायम है। भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान रहाणे ने आगे कहा कि आखिरी बार जब हम श्रीलंकाई दौरे पर आये थे, तो मैंने अपने फील्डिंग कोच से स्लिप फील्डिंग को लेकर बातचीत की और हर अभ्यास सत्र में 100 कैच की प्रैक्टिस करने का फैसला किया। मैं स्लिप में एक बेहतरीन फील्डर बनना चाहता था। मैंने जब से अपनी फील्डिंग पर ध्यान दिया और अभी भी इस पर लगातार मेहनत किये जा रहा हूँ। भारत और श्रीलंका के बीच चल रही सीरीज में रहाणे ने शानदार बल्लेबाजी के साथ स्लिप में बेहतरीन फील्डिंग भी की है। वह सीरीज के 2 मैचों में 6 कैच पकड़ चुके हैं। साथ ही भारत के पहले और विश्व के दूसरे सबसे तेज 50 कैच लेने वाले ख़िलाड़ी बन गए हैं। अजिंक्य रहाणे ने दूसरे टेस्ट मैच में चेतेश्वर पुजारा के साथ महत्वपूर्ण साझेदारी कर भारत को मजबूत स्कोर तक पहुँचाया था। रहाणे ने इस टेस्ट में अपने करियर का 9वां शतक लगाया जिसके बदौलत भारत ने श्रीलंका को आसानी से पारी व 53 रनों से हराकर सीरीज में 2-0 की अजय बढ़त बना ली है।
Published 08 Aug 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now