Create
Notifications

क्रिकेट न्यूज़: अजित अगरकर समेत मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के सभी चयनकर्ताओं ने दिया सामूहिक इस्तीफा

Enter caption
Richa Gupta
ANALYST

पिछले दो घरेलू सत्रों में मुंबई की टीम का प्रदर्शन खराब रहा। बीते दो साल में मुंबई टीम विजय हजारे ट्रॉफी के अलावा और कुछ नहीं जीत सकी। इसकी गाज मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) के चयनकर्ताओं पर गिरना तय माना जा रहा था। हालांकि, इससे पहले ही एमसीए के चेयरमैन अजीत अगरकर सहित पूरी चयन समिति ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। कहा जा रहा है कि चयनकर्ताओं ने अपने इस्तीफे तदर्थ समिति और एमसीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सीएस नाइक को भेज दिए हैं। 

एमसीए के चयनकर्ताओं ने अपना इस्तीफा तब दिया, जब घरेलू सीजन 2018-19 समाप्त हो चुका था। उसके एक दिन बाद ही अगरकर, नीलेश कुलकर्णी, सुनील मोरे और रवि थक्कर सहित पूरी चयन समिति ने सामूहिक इस्तीफा दे दिया। कहा जा रहा था कि जल्द ही एमसीए की तदर्थ समिति की बैठक पूरी चयन समिति को बर्खास्त करने के लिए की जाने वाली थी। मुंबई टीम के चयनकर्ताओं को इसकी जानकारी पहले ही मिल गई थी। चयनकर्ताओं को इससे निराशा हुई और सभी ने आपस में बैठकर विचार किया। इसके बाद एकमत होकर इस्तीफा दे दिया। मुंबई के खराब प्रदर्शन की वजह से फरवरी में एमसीए की हुई विशेष आम बैठक के दौरान कई सदस्यों ने चयनकर्ताओं को उनके पदों से हटाने के लिए प्रस्ताव पारित किया था। हालांकि, तब एमसीए की सुधार समिति ने प्रस्ताव को यह कहते हुए खारिज कर दिया था कि चयनकर्ताओं की प्रतिबद्धता पर सवाल नहीं उठाया जा सकता है।  

Enter caption

अजीत अगरकर और उनकी कंपनी की अगुआई में ही 12 साल बाद मुंबई ने इस सीजन में विजय हजारे ट्रॉफी को जीतने का गौरव हासिल किया था। यही नहीं, अजीत अगरकर के नेतृत्व में सभी चयनकर्ताओं ने पिछले दो साल में कई कड़े फैसले लिए थे। उन्होंने उन खिलाड़ियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया था, जो मैदान पर काफी वक्त से संघर्ष कर रहे थे। हालांकि, एमसीए की तदर्थ समिति के कुछ सदस्य इससे भी खुश नहीं थे। इसी वजह से उन्होंने चयनकर्ताओं पर बर्खास्तगी का दबाव डाला। 

Hindi cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Edited by निशांत द्रविड़
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now