एलिस्टर कुक ने रचा इतिहास, मास्टर ब्लास्टर को भी छोड़ा पीछे

इग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान अलिस्टर कुक ने श्रीलंका के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच की चौथी पारी में अपने 10,000 रन पूरे कर लिए। ऐसा करने वाले वो दुनिया के सबसे युवा बल्लेबाज़ बन गए हैं। कुक ने ये कारनामा श्रीलंका के खिलाफ चल रही टेस्ट सीरीज़ के दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी के दौरान नुवान प्रदीप की गेंद पर चौका लगाते हुए किया। सचिन तेंदुलकर के 11 साल के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए कुक ने ये कारनामा 31 साल 5 महीने और 5 दिन की उम्र में किया, जबकि सचिन 11 साल पहले मार्च 2005 में 31 साल 10 महीने और 20 दिन की उम्र में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ इडेन गार्डेन(कोलकाता)में इस मील के पत्थर तक पहुंचे थे। कुक ने तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ते हुए 10,000 रन के माइलस्टोन का आंकड़ा पूरा करने में 226 पारियां और 126 टेस्ट मैच लिए और इसी के साथ वो सचिन, संगकारा और लारा जैसे दिग्गज बल्लेबाजों की सूची मे शामिल हो गए। कुक 10 हज़ार रन बनाने वाले दुनिया के 12वें खिलाड़ी बन गए हैं। भले ही उम्र के मामले में कुक ने सचिन को पीछे छोड़ते हुए ये आंकड़ा पार किया हो, मगर पारियों को देखा जाए तो वो आज भी इन तीनों महान बल्लेबाज़ों से काफी पीछे रहे हैं। कुक ने जहां ये आंकड़ा 226 पारियों में पूरा किया है वहीं सचिन, लारा और संगाकारा ने इस आंकड़े को 195 पारियों में ही हासिल कर लिया था।

Edited by Staff Editor