Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

बेन स्टोक्स IPL 2017 नीलामी में सबसे महंगे बिकने वाले विदेशी खिलाड़ी हैं, उनके बारे में जानने योग्य 5 बातें

CONTRIBUTOR
Modified 20 Feb 2017, 18:59 IST
Advertisement
इंग्लैंड के हरफनमौला (आल-राउंडर) खिलाड़ी बेन स्टोक्स आईपीएल 2017 की नीलामी में सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी साबित हुए हैं।  स्टोक्स को राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स ने 14.5 करोड़ की भारी-भरकम राशी में खरीदा है। मौजूदा समय उनके लिए बेहतरीन साबित हो रहा है। हाल में ही उन्हें देश की टेस्ट टीम में उप-कप्तान बनाया गया। यानी कप्तान जो रूट और उप-कप्तान बेन स्टोक्स के कंधों पर इंग्लैंड टेस्ट टीम को आगे ले जाने की जिम्मेदारी है। 2016-17 भारत दौरा उनके लिए काफी अच्छा साबित रहा। भारतीय क्रिकेट टीम को बेन स्टोक्स ने कई बार अपनी प्रतिभा से परेशान किया। नीलामी में मिली राशी उसी का ईनाम है। आईपीएल की हर टीम की नज़र इस हरफनमौला खिलाड़ी पर टिकी हुई थी। मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु ने एक के बाद एक कई बोलियां स्टोक्स के लिए लगाई, लेकिन अंत में बाजी पुणे ने मारी। टी-20 में भले ही स्टोक्स का आंकड़ा अच्छा न हो, लेकिन टेस्ट मैच और वन-डे मैचों में उन्होंने अपने खेल से सभी को प्रभावित जरुर किया है। क्रिकेट की दुनिया में बेन स्टोक्स एक ऐसा नाम है, जो कि बल्लेबाजी, गेंदबाज़ी और क्षेत्ररक्षण में माहिर खिलाड़ी है। ये खूबियां उन्हें टी-20 फॉर्मेट के लिए बेहतरीन खिलाड़ी बनाते हैं। आइये उन पांच बातों के बारे में बताते हैं, जिसके बारे में बहुत कम लोगों को पता है – 5- न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में जन्म हुआ     इंग्लैंड के लिए खेलने वाले बेन स्टोक्स का जन्म देश में न होकर न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में हुआ था। स्टोक्स के पिता गेर्राड की नागरिकता जन्म से न्यूजीलैंड की थी। गेर्राड स्टोक्स रग्बी खिलाड़ी थे। बाद में बतौर कोच उन्होंने 5 टीमों को रग्बी कोचिंग दी। स्टोक्स के पिता ने पहले उन्हें रग्बी खेलने के लिए प्रेरित किया। बाद में उन्हें एहसास हो गया कि उसे रग्बी को लेकर कोई खास उत्साह नहीं है। जब स्टोक्स 12 वर्ष के थे, तब उनके पिता को वर्किंगटन टाउन रग्बी टीम की कोचिंग के लिए कोच की नौकरी का प्रस्ताव दिया गया, जिसे उन्होंने स्वीकार किया। इंग्लैंड के कोकरमाउथ में शहर में बड़े हुए। इस दौरान उन्होंने कोकरमाउथ क्रिकेट क्लब की तरफ से खेला। पिता की नौकरी छूटने के बाद स्टोक्स की क्रिकेट प्रतिभा ने ही परिवार को संभाला। उनकी प्रतिभा को एक व्यक्ति ने पहचाना और क्रिकेट में करियर बनाने में मदद की। किशोर रहते हुए स्टोक्स ने इंग्लिश क्रिकेट जैसे तीन बड़े खिताब अपने नाम किए।  
1 / 5 NEXT
Published 20 Feb 2017, 18:59 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit