ऑस्ट्रेलिया तीसरे तेज गेंदबाज के बजाय शॉन मार्श को अंतिम एकादश में शामिल करे : बॉर्डर

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एलन बॉर्डर का मानना है कि श्रीलंका के खिलाफ गुरुवार से गाले में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट में शॉन मार्श के शामिल होने से बल्लेबाजी क्रम में मजबूती आएगी। ऑस्ट्रेलिया को पहले टेस्ट में श्रीलंका के हाथों 106 रन की बड़ी शिकस्त झेलना पड़ी जिसमें डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ जैसे बल्लेबाज फ्लॉप रहे। 61 वर्षीय बॉर्डर के हवाले से फॉक्सस्पोर्ट्स।कॉम।एयू ने कहा, 'उपमहाद्वीप में हम कभी मैच नहीं जीत पाएंगे अगर दो पारियों में कुल 360 रन बनाएंगे। हमें बल्ले से बेहतर प्रदर्शन करना होगा और अगर इसके लिए ज्यादा विशेषज्ञ बल्लेबाजों की जरुरत लगी तो चार गेंदबाज मिलकर विकेट निकाल सकते हैं। यह हमारी आम प्रक्रिया नहीं है, लेकिन इस तरह की पिचों पर हमें बेहतर प्रक्रिया अपनाना होगी। क्या हमें हेजलवुड या मिचेल स्टार्क और मिचेल मार्श मार्श की जरुरत है? अगर मिचेल मार्श छठें क्रम पर बेहतर प्रदर्शन ना करें तो आपको एक अन्य बल्लेबाज को शामिल करना चाहिए।' ऑस्ट्रेलिया ने पहले टेस्ट में श्रीलंका को पहली पारी में 117 रन के मामूली स्कोर पर ऑलआउट कर दिया था। मगर उसके बल्लेबाज भी विकेट पर स्पिन और उछाल से चकमा खा गए और 86 रन की बढ़त ही ले सके। मेजबान टीम ने जबर्दस्त वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया के सामने 268 रन का लक्ष्य रखा। स्मिथ की टीम इस लक्ष्य को हासिल नहीं कर सकी और पांचवें दिन चायकाल से पहले 161 रन पर ऑलआउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया के स्पिनर स्टीव ओ कीफी ने पहली पारी में शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन वह दूसरी पारी में चोटिल हो गए। बॉर्डर ने कहा कि टीम को तीसरे तेज गेंदबाज की कमी नहीं कलेगी। एलन ने कहा, 'हम पहले टेस्ट में तीन तेज गेंदबाजों के साथ उतरे, जिसमें मिचेल मार्श ने ज्यादा गेंदबाजी नहीं की। क्या ऐसे ऑस्ट्रेलिया शानदार प्रदर्शन करेगा? इन परिस्थितियों को देखते हुए हमें शॉन मार्श को मिचेल मार्श या जोश हेजलवुड की जगह आजमाना नहीं चाहिए?'

Edited by Staff Editor