Create

अंडर 19 वर्ल्ड कप विजेता खिलाड़ी पर उम्र में हेराफेरी के लगे आरोप

टूर्नामेंट के दौरान हंगारगेकर ने सुर्खियाँ बटोरी थी
टूर्नामेंट के दौरान हंगारगेकर ने सुर्खियाँ बटोरी थी

भारतीय क्रिकेट में एक बार फिर से उम्र में हेराफेरी का मामला सामने आया है। अंडर 19 वर्ल्ड कप विजेता टीम के खिलाड़ी राजवर्धन हंगारगेकर (Rajvardhan Hangargekar) पर उम्र में फेरबदल का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि इवेंट में शामिल होने के लिए हंगारगेकर ने अपनी उम्र बदल दी।

सामना न्यूज पेपर में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार खिलाड़ी के ऊपर आरोप स्पोर्ट्स एंड यूथ डिपार्टमेंट के कमिश्नर ओमप्रकाश बाकोरिया ने लगाए हैं। आईएएस अधिकारी ने कथित तौर पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को एक पत्र भेजा है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि हैंगरगेकर 21 साल के हैं, उन्होंने साथ में सबूत भी भेजे हैं।

पत्र में बकोरिया ने दावा किया कि धाराशिव के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल गुप्ता ने पुष्टि की है कि तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर 21 साल के हैं। उन्होंने बीसीसीआई को दस्तावेजों में खुद को 19 साल का बताया है लेकिन ऐसा नहीं है। बाकोरिया ने यह भी बताया कि हंगारगेकर का स्कूल धाराशिव का टेरना पब्लिक स्कूल रहा है। स्कूल रिकॉर्ड के अनुसार क्लास 1 से लेकर 7 तक हंगारगेकर की जन्मतिथि 10 जनवरी 2001 रही है। इसके बाद जब क्लास 8 के लिए उन्होंने फिर से एडमिशन लिया तब इसे बदलकर 10 नवम्बर 2002 कर दिया गया।

Sports Commissioner of Maharashtra has written to the BCCI about the age manipulation by U19 Star Rajvardhan Hangargekar. (Reported by Saamana).

गौरतलब है कि राजवर्धन हंगारगेकर भारतीय टीम के उन चमकते सितारों में शामिल थे जिन्होंने अंडर 19 वर्ल्ड कप में अपनी छाप छोड़ी। उन्होंने छह मुकाबलों में पांच विकेट हासिल किये। निचले क्रम में खेलते हुए कुछ मौकों पर बड़े शॉट भी उनके बल्ले से देखने को मिले। वह बड़े छक्के मारने के लिए जाने जाते रहे हैं।

उन्हें हाल ही में चेन्नई सुपर किंग्स ने 1.5 करोड़ रुपये में खरीदा था। अगर आरोप सही साबित होते हैं, तो तेज गेंदबाज ऑलराउंडर खुद को काफी मुश्किल में पा सकते हैं। देखना होगा कि बीसीसीआई का इस पर क्या रुख रहता है।

Edited by निरंजन
Be the first one to comment