Create
Notifications
Advertisement

एंजेलो मैथ्यूज को इंग्लैंड के खिलाफ श्रीलंकाई वन-डे टीम से बाहर किया गया

  • इससे पहले एंजेलो मैथ्यूज को कप्तानी छोड़ने के लिए भी कहा गया था, बाद में बोर्ड ने उन्हें हटा दिया था
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
न्यूज़
Modified 26 Sep 2018, 17:02 IST

Enter

श्रीलंकाई वन-डे टीम की कप्तानी से हटाने के बाद एंजेलो मैथ्यूज को टीम से भी बाहर कर दिया गया है। फिटनेस की वजह से उन्हें टीम से हटाए जाने के कयास लगाए जा रहे हैं। मैथ्यूज ने इस मामले पर चयन समिति को एक बार फिटनेस टेस्ट लेने की मांग की है। इंग्लैंड के खिलाफ वन-डे सीरीज के लिए फ़िलहाल वन-डे टीम की घोषणा नहीं हुई है।

श्रीलंकाई खेल मंत्रालय को खिलाड़ियों की सूची भेज दी गई है और आधिकारिक मंजूरी का इंतजार किया जा रहा है। टीम की घोषणा नहीं होने की वजह से मैथ्यूज के पास वापस आने का मौका रहेगा क्योंकि चयन समिति के पास उनका मामला लंबित है। यह भी हो सकता है कि उन्हें फिटनेस टेस्ट का मौका दिया जाए।

श्रीलंकाई खिलाड़ी के साथ चयनकर्ताओं और कोच के साथ बैठक में फिटनेस को लेकर चर्चा की गई थी। इसी मीटिंग में मैथ्यूज को कप्तानी छोड़ने के लिए कहा गया था। ईएसपीएन की रिपोर्ट के अनुसार मैथ्यूज को एशिया कप से पहले यो-यो टेस्ट देने की अनिवार्यता से भी छूट प्रदान कर दी गई थी। उनके कोच हथुरुसिंघा ने यह किया था।

पैरों में चोट की वजह से एशिया कप में उन्हें दौड़ने में समस्या आई थी। इस वजह से साथी खिलाड़ियों के रन आउट होने के मामले भी बढ़ने की चिंता रहती थी। गौरतलब है कि श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने मैथ्यूज से कप्तानी छोड़ने का आग्रह किया था तब उन्होंने ऐसा नहीं करते हुए एक पत्र लिखकर पद से हटाने की मांग की थी।

एशिया कप में श्रीलंकाई टीम का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा था। बांग्लादेश और अफगानिस्तान के खिलाफ मैचों में हार का सामना करना पड़ा था। मैथ्यूज पर गाज गिरने की सबसे बड़ी वजह एशिया कप का प्रदर्शन है। इसके अलावा चोट भी उन्हें टीम से बाहर करने का एक कारण माना जा सकता है।


Published 26 Sep 2018, 17:02 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit