Create

"रातों-रात खिलाड़ी नहीं बनते हैं"- भारतीय टीम में बिग हिटर्स की कमी पर पूर्व कप्तान का बड़ा बयान

New Zealand v India - 2022 ICC Women's Cricket World Cup
New Zealand v India - 2022 ICC Women's Cricket World Cup

भारतीय महिला क्रिकेट टीम में कई बेहतरीन बल्लेबाज हैं, लेकिन टीम में लंबे शॉट लगाने वाले बल्लेबाजों की कमी अक्सर देखने को मिलती है। फिलहाल हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur), स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) और शैफाली वर्मा (Shafali Verma) को छोड़ दें तो टीम में कोई ऐसी बल्लेबाज नहीं दिखती है जो बड़े शॉट लगाने में माहिर हो। पूर्व भारतीय कप्तान अंजुम चोपड़ा (Anjum Chopra) ने भारतीय टीम में बिग हिटर्स की कमी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा,

विमेंस टी20 चैलेंज से पहले किरन नवगिरे के बारे में काफी बातें हो रही थीं क्योंकि उन्होंने नागालैंड के लिए रन बनाए थे। टी20 चैलेंज में पहली बार बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने बेहतरीन पारी खेली और लंबे-लंबे छक्के लगाए थे। हमें लगा था कि हमें एक बिग हिटर मिल गई है, लेकिन अगले दो मैचों में वह कुछ खास नहीं कर पाई थीं। खिलाड़ी रातों-रात नहीं बनते हैं। हमें उनको समय देना पड़ता है। बिग हिटिंग एक स्किल है जिसके लिए आपको बेस बनाना होता है और फिर अगले लेवल पर जाना होता है।

"मध्यक्रम और निचला क्रम फिलहाल भारत की सबसे बड़ी समस्या"- चोपड़ा

हरमनप्रीत और स्मृति यदि किसी मैच में फ्लॉप हो जाती हैं तो भारतीय टीम की बल्लेबाजी एकदम साधारण सी दिखने लगती है। कई बार तो ऐसा भी होता है कि इन दो बल्लेबाजों के दम पर भारत मजबूत स्थिति में रहती है, लेकिन उनके आउट होते ही अचानक मध्यक्रम और निचला क्रम बिखर जाता है। अंजुम चोपड़ा के मुताबिक भारत के लिए फिलहाल यह सबसे बड़ी समस्या है। उन्होंने कहा,

भारतीय महिला टीम को लंबे समय से मध्यक्रम में अच्छे बल्लेबाजों की तलाश है। उन्हें ऐसे खिलाड़ी चाहिए जो पारी को संभाल सके। फिलहाल भारतीय महिला टीम के साथ यह सबसे बड़ी समस्या है। जब मध्यक्रम और निचले क्रम की बात आती है तो टीम बेहद कमजोर दिखाई देती है। हमारी शुरुआत अच्छी नहीं रही तो हम हमेशा बड़ी मुसीबत में दिखाई देते हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment