जिम्बाब्वे के बल्लेबाज ने रचा इतिहास, 300 रन बनाकर बड़ा कीर्तिमान किया अपने नाम

अंतुम नकवी तिहरा शतक लगाने के बाद (Photo Credit - The Zimbabwe Sphere)
अंतुम नकवी तिहरा शतक लगाने के बाद (Photo Credit - The Zimbabwe Sphere)

जिम्बाब्वे के 24 साल के बल्लेबाज अंतुम नकवी ने एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। वो जिम्बाब्वे की किसी भी टीम की तरफ से तिहरा शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर बन गए हैं। उनसे पहले आज तक जिम्बाब्वे के किसी भी बल्लेबाज ने जिम्बाब्वे के लिए किसी भी लेवल पर तिहरा शतक नहीं लगाया था लेकिन अंतुम नकवी ने ये कारनामा करके इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज करा लिया है।

अंतुम नकवी की अगर बात करें तो वो जिम्बाब्वे की फर्स्ट क्लास टीम मिड वेस्ट राइनोज के कप्तान हैं। हरारे में लोगान कप के तहत उनकी टीम और माताबेलेलांड टस्कर्स के बीच मुकाबला खेला जा रहा था। जब तीसरे दिन का खेल शुरु हुआ तो नकवी पहले से ही 250 रन बनाकर नाबाद थे। इसके बाद तीसरे दिन लंच से पहले उन्होंने अपना तिहरा शतक पूरा कर लिया। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 295 गेंदों का सामना किया और 444 मिनट तक बल्लेबाजी की। इस दौरान नकवी ने 30 चौके और 10 छक्के लगाए। अपनी इस पारी के साथ ही जिम्बाब्वे क्रिकेट के कई सारे रिकॉर्ड्स उन्होंने तोड़ दिए।

अंतुम नकवी ने अपनी मैराथन पारी से कई रिकॉर्ड तोड़े

अंतुम नकवी ने जब 300 रनों का आंकड़ा हासिल किया तो फिर वो जिम्बाब्वे की तरफ से फर्स्ट क्लास क्रिकेट की एक पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए। इससे पहले ये रिकॉर्ड रे ग्रिपर के नाम था जिन्होंने 1967-68 में साउथ अफ्रीका में करी कप में 279 नाबाद रन बनाए थे। इसके अलावा उन्होंने ब्रायन डैविसन के 299 रनों का रिकॉर्ड भी तोड़ा। डैविसन ने 1973-74 में लोगान कप के फर्स्ट क्लास टूर्नामेंट बनने से पहले ये 299 रनों की पारी खेली थी। हालांकि नकवी अब इन सब क्रिकेटरों से आगे निकल गए हैं।

ग्रीम हिक और मुरे गुडविन ने भी फर्स्ट क्लास क्रिकेट में तिहरा शतक लगाया था लेकिन ये तिहरा शतक उन्होंने जिम्बाब्वे की धरती पर नहीं बल्कि काउंटी क्रिकेट में लगाया था। ओवरऑल जिम्बाब्वे की धरती पर फर्स्ट क्लास में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के मार्क रिचर्डसन के नाम है जिन्होंने 2000-01 में जिम्बाब्वे ए के खिलाफ 306 रन बनाए थे। नकवी के पास इस रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका था लेकिन उनके 300 रन पूरा करते ही पारी घोषित कर दी गई।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता