Create

सचिन तेंदुलकर के आंकड़े देखते हुए कहा जा सकता है कि शोएब अख्तर का बयान गलत है

शोएब अख्तर और सचिन के बीच स्पर्धा होती रहती थी
शोएब अख्तर और सचिन के बीच स्पर्धा होती रहती थी
Naveen Sharma

सचिन तेंदुलकर दुनिया के बेस्ट क्रिकटरों में आज भी गिने जाते हैं और वह किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। फैन्स अब भी उनका उतना ही सम्मान करते हैं और एक झलक देखने के लिए लालायित रहते हैं। इस बीच पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर ने एक बयान दिया है कि जब मैं अपने करियर के शुरुआती दौरे में था तब सचिन तेंदुलकर के बारे में नहीं जानता था। वह किस स्तर के खिलाड़ी हैं, यह भी नहीं जानता था।

स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत में अख्तर ने यह कहा। हालांकि अख्तर ने सचिन से 7 साल बाद अपना डेब्यू किया था लेकिन वह उनके बारे में नहीं जानते, यह बात गले नहीं उतरती। तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट में अपना डेब्यू साल 1989 में किया था और वनडे का आगाज भी इसी साल किया था। वहीँ अख्तर की बात करें तो वह साल 1997 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने आए थे।

अख्तर ने 22 साल की उम्र में डेब्यू किया था। तब सचिन तेंदुलकर के काफी चर्चे थे। आज के समय में अगर उमरान मलिक आकर कहे कि मैं जो रूट और केन विलियमसन के बारे में नहीं जानता कि वे किस तरह के खिलाड़ी हैं, तो कोई उनकी बार पर भरोसा नहीं करेगा।

अख्तर ने भी कुछ वैसा ही किया है। अक्सर वह हैरान करने वाले बयान देते रहते हैं। जब अख्तर खेलने के लिए आए थे तब सचिन तेंदुलकर 58 टेस्ट मैचों में 4000 से भी ज्यादा रन बना चुके थे और 14 शतक भी लगा चुके थे। वहीँ वनडे क्रिकेट की बात करें तो उन्होंने 173 मुकाबले खेलकर तकरीबन 6 हज़ार रन बनाए थे। इस दौरान वह 12 शतक जड़ने में सफल रहे थे। काफी समय मध्यक्रम में खेलने के कारण उनके शतकों की संख्या उस समय कम थी।

सचिन के इन आकड़ों को देखकर कोई नहीं कह सकता कि मैं उनके स्तर को नहीं जानता था। अख्तर ने क्या सोचकर ऐसा कहा होगा, वह तो वही जानते हैं लेकिन उनकी बात पर हर कोई भरोसा नहीं कर सकता। जो खिलाड़ी 7 साल से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेल रहा है और कोई नया खिलाड़ी आकर कह दे कि मैं सचिन को नहीं जानता, तो थोड़ा अजीब लगता है। अख्तर ने किस मंशा से अपनी प्रतिक्रिया दी है, वह उनसे बेहतर कोई नहीं जानता लेकिन सचिन ने उस समय तक कोई 1 या 2 मैच नहीं बल्कि 200 से भी ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैच खेले थे।

नोट: ये लेखक के अपने निजी विचार हैं


Edited by Naveen Sharma

Comments

comments icon1 comment

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...