Create
Notifications

'सचिन तेंदुलकर से की गई मेरी तुलना ही मेरे लिए गर्व की बात है’

सोहैल आब्दी

क्रिकेट के इस खेल में अबतक कई महान खिलाड़ी आये और गए पर इनमें से कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्हें आज भी लोग दिल में बसाकर रखे हुए हैं। ऐसे ही कुछ खिलाड़ियों एक खिलाड़ी है भारत के सचिन रमेश तेंदुलकर जिनके पूरी दुनिया भर में ना जाने कितने समर्थक होंगे। भारतीय क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने भारतीय क्रिकेट को जिन बुलंदियों तक पहुंचाया है वो शायद ही और कोई दूसरा खिलाड़ी कर पाए। क्रिकेट के इस भगवान को खेलते देख समर्थक पागल से हो जाते थे। क्रिकेट जगत के कुछ ऐसे दिग्गज खिलाड़ी हैं जो संन्यास लेने के बावजूद प्रशंसकों और दूसरे खिलाड़ियों के दिलों पर अब भी राज करते हैं। चाहे ये खिलाड़ी किसी भी देश के हों पर इनके समर्थकों की कोई तय सीमा नहीं होती। सभी क्रिकेट खेलने वाले देशों में कुछ ऐसे खिलाड़ी मौजूद हैं, जिन्हें ना सिर्फ उनके समर्थक बल्कि उनके साथ और विरोध में खेलने वाले खिलाड़ी भी पसंद करते हैं। क्रिकेट के इस खेल में सभी को अपना अपना हीरो चुनने का अधिकार है और उनके इस अधिकार पर किसी की कोइ रोक टोक नहीं होती। ऐसे ही खिलाड़ी जिन्हें आज भी दूसरे खिलाड़ी अपना हीरो मानते हैं, एक नाम है भारत के मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का है। तेंदुलकर वैसे तो भारतीयों के साथ-साथ पूरी दुनिया के खिलाड़ियों के दिल में बसते हैं पर कुछ ऐसे भी युवा खिलाड़ी हैं जो दूसरे देश के होने के बावजूद सचिन को अपना आदर्श मानते हैं और जब ऐसे युवा खिलाड़ियों के साथ सचिन की तुलना कर दी जाये तो वो खिलाड़ी फूले नहीं समाता है। ऐसा ही कुछ हुआ पाकिस्तान के 30 वर्षीय बल्लेबाज़ असद शफीक के साथ जब उनकी टीम के कोच मिकी आर्थर ने उनकी समानता सचिन तेंदुलकर से कर दी। कोच द्वारा खुद को सचिन के समान होने पर शफीक बेहद खुश हो पड़े। “ये मेरे लिए बेहद गर्व की बात है कि मुझे उस महान क्रिकेटर के साथ जोड़ा गया है, मैंने हमेशा उन्हें बल्लेबाज़ी करता देख उनसे सीखने की कोशिश की है। सही मायने में मैंने उन्हें खेलते देख ही क्रिकेट खेलना शुरू किया था और उनके वीडियो देख देखकर काफी कुछ सीखा है”: असद शफीक (मैंने सचिन का वीडियो देख देखकर क्रिकेट खेलना शुरू किया था)


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...