Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

चैंपियंस ट्रॉफी में खेलना पसंद करूंगा : आशीष नेहरा

ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 21:21 IST
Advertisement
भारतीय टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने वन-डे प्रारूप में वापसी के लिए चैंपियंस ट्रॉफी के आगामी संस्करण को निशाना बनाया है। 37 वर्षीय तेज गेंदबाज ने जोर देकर कहा कि उनके अनुभव और खेल की विभिन्न परिस्थितियों में गेंदबाजी करने की क्षमता से उन्हें फायदा मिलेगा। नेहरा ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में कहा, 'मैं 2017 चैंपियंस ट्रॉफी में खेलना पसंद करूंगा। जब आप इंग्लैंड जा रहे हैं तो दो स्पिनर्स के साथ चार तेज गेंदबाजों को ले जाना चाहेंगे। मुझे पता है कि किसी भी परिस्थिति में गेंदबाजी कर सकता हूं। मैं अपने अनुभव को साझा कर सकता हूं और अन्य युवा गेंदबाजों को प्रेरित कर सकता हूं।' बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने आगे कहा, 'मैंने मैच फिटनेस हासिल करने के लिए तीन मैचों को खेलने का लक्ष्य स्थापित किया है। 50 ओवर का खेल मुश्किल चुनौती है और अपने आप को टेस्ट करने के लिए विजय हजारे ट्रॉफी अच्छा मंच है। जब मैं टी20 मैच की तैयारी कर रहा था तो नेट्स पर 8 ओवर डालने की तैयारी कर रहा था। यह सिर्फ मेरी फिटनेस की बात नहीं बल्कि 50 ओवर के मैच को खेलने की चुनौती है। एक बार मैं ऐसे मैच खेलना शुरू करूं तो फिर काफी फिटनेस हासिल कर लूंगा और चैंपियंस ट्रॉफी के लिए अच्छे आकार में आ जाऊंगा।' याद हो कि नेहरा ने सौरव गांगुली के नेतृत्व में 2001 में ज़िम्बाब्वे के खिलाफ वन-डे डेब्यू किया था। चोट और ख़राब फॉर्म की वजह से नेहरा ने सिर्फ 119 मैच खेले और 31.72 की औसत से 157 विकेट लिए। अनुभवी तेज गेंदबाज ने आखिरी बार भारत की तरफ से 2011 विश्व कप के सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ मैच खेला था। लंबे समय के बाद नेहरा की टी20 टीम में वापसी हुई। इसके बाद से वह लगभग हर टी20 सीरीज में भारतीय टीम में नजर आए। उन्होंने एशिया कप टी20, टी20 वर्ल्ड कप और कुछ द्विपक्षीय सीरीज में शिरकत की। नेहरा की शुरुआती ओवरों में विकेट चटकाने की क्षमता से भारतीय टीम को काफी फायदा मिला। इसके अलावा नेहरा ने युवा गेंदबाजों को भी काफी फायदा पहुंचाया। चैंपियंस ट्रॉफी में जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, उमेश यादव और भुवनेश्वर कुमार के चयनित होने की संभावना है जबकि हार्दिक पांड्या को ऑलराउंडर के रूप में शामिल किया जा सकता है। ऐसे में नेहरा का यह बयान चयनकर्ताओं को हैरान भी कर सकता है। हालांकि, नेहरा 2017 विजय हजारे ट्रॉफी में खेलकर अपनी फिटनेस और चयन की बात को साबित करना चाहेंगे। Published 18 Feb 2017, 21:05 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit