"यह दर्शाता है कि कप्तान को उनकी गेंदबाजी गेंदबाजी पर भरोसा नहीं" - Deepak Hooda से गेंदबाजी न कराने को लेकर आई प्रतिक्रिया 

दीपक हूडा से गेंदबाजी नहीं कराई गई थी
दीपक हूडा से गेंदबाजी नहीं कराई गई थी

4 सितम्बर को एशिया कप (Asia Cup 2022) सुपर 4 में पाकिस्तान के खिलाफ हुए मैच में भारतीय टीम को हार मिली थी। हार के बाद भारतीय कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के कुछ फैसलों पर सवाल उठे थे, जिसमें एक दीपक हूडा (Deepak Hooda) से गेंदबाजी न करवाना था। इसको लेकर विराट कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा ने भी प्रतिक्रिया दी है, जिनका मानना है कि हूडा को पाकिस्तान के कुछ ओवर की गेंदबाजी कराई जा सकती थी।

राजकुमार शर्मा के मुताबिक पाकिस्तानी बल्लेबाज मोहम्मद नवाज के सामने भारतीय स्पिन ऑलराउंडर को गेंद थमाई जा सकती थी। नवाज़ ने नंबर 4 पर आकर तूफानी बल्लेबाजी की और महज 20 गेंदों में 42 रन जड़कर मैच को भारत की पकड़ से दूर करने में अहम भूमिका निभाई थी।

शर्मा ने कहा कि ऐसा लगता है कि कप्तान को हूडा की गेंदबाजी क्षमताओं पर पर्याप्त भरोसा नहीं है, क्योंकि उन्हें प्रमुख गेंदबाजों की पिटाई के बावजूद छठे गेंदबाजी विकल्प के रूप में इस्तेमाल नहीं किया गया था।

इंडिया न्यूज़ स्पोर्ट्स पर चर्चा के दौरान विराट के कोच ने कहा,

दीपक हूडा को टीम में जोड़ा गया क्योंकि वह छठे गेंदबाजी विकल्प हो सकते थे। जब मोहम्मद नवाज अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे तो उन्हें कुछ ओवर दिए जाने चाहिए थे। यह दर्शाता है कि कप्तान को एक गेंदबाज के रूप में उन पर पर्याप्त विश्वास नहीं है, या शायद उन्होंने नहीं सोचा था कि हूडा को बाएं हाथ के बल्लेबाज के खिलाफ इस्तेमाल किया जा सकता था। वह एक उपयोगी विकल्प होते क्योंकि उन्होंने टी20 क्रिकेट में काफी गेंदबाजी की है।
youtube-cover

भारतीय टीम के चयन पर भी राजकुमार शर्मा ने साधा निशाना

राजकुमार शर्मा ने आगे कहा कि स्क्वाड में आवेश खान के विकल्प की कमी है, जो बुखार की वजह से पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले से बाहर हो गए थे। उन्होंने इसे टीम मैनेजमेंट की गलती बताई जिन्होंने प्रमुख टूर्नामेंट के लिए महज तीन तेज गेंदबाजों को चुना है। वहीं उन्होंने स्क्वाड में ऑफ स्पिनर अश्विन के होने के बावजूद प्लेइंग XI में दो लेग स्पिनर को शामिल करने के फैसले पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा,

भारत को पाकिस्तान के खिलाफ इस लाइनअप के साथ जाने के लिए मजबूर होना पड़ा क्योंकि भारत के पास एक तेज गेंदबाज के लिए रिप्लेसमेंट नहीं था। यह टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं की बड़ी गलती है कि उन्होंने एक अतिरिक्त तेज गेंदबाज को टीम में नहीं जोड़ा। हमारे पास रविचंद्रन अश्विन थे लेकिन फिर भी दो लेग स्पिनरों के साथ गए।

2022 एशिया कप सुपर 4 में भारत को अपना अगला मुकाबला श्रीलंका के खिलाफ 6 सितम्बर को खेलना है। फाइनल में जगह बनाने के लिए भारत को मुकाबले में जीत दर्ज करना बेहद जरूरी है। देखना होगा कि इस मुकाबले में रोहित शर्मा किस प्लेइंग XI के साथ मैदान में उतरते हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now