Create
Notifications

मीडिया में दिखाया जाता है वैसा खराब व्यवहार ऑस्ट्रेलियाई टीम का नहीं है: डैरेन लेहमन

Naveen Sharma
visit

पूर्व ऑस्ट्रलियाई कोच डैरेन लेहमन का कहना है कि उनके कार्यकाल में टीम ने खेल भावना से खेला है। उनके अनुसार खिलाड़ियों का मैदान पर व्यवहार अच्छा रहा है, मीडिया जिस तरह दिखाता है वैसा कुछ नहीं है। उनका इशारा न्यूलैंड्स टेस्ट बॉल टैम्परिंग मामले के बाद कंगारू खिलाड़ियों के बारे में आई खबरों की तरफ था। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट में स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बैन्क्रोफ्ट को बॉल टैम्परिंग मामले में पकड़ने के बाद ऑस्ट्रेलिया की चौतरफा आलोचना हुई थी। इसके बाद कोच लेहमन ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया था। लेहमन ने यह भी कहा कि मेरे पूरे कार्यकाल के दौरान टीम ने अच्छी भावना दर्शाते हुए खेला है। अपने दिनों को याद करते हुए इस पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कहा कि हमारे समय में बहुत स्लेजिंग होती थी। आपको खेल का प्रमोशन अच्छी तरह से करना होता है, इसके लिए मैदान पर व्यवहार अच्छा होना चाहिए। पूर्व कंगारू कोच ने कहा कि कुछ घटनाओं के बारे में आईसीसी ने संज्ञान भी लिया था। मैकवेयर स्पोर्ट्स रेडियो से बातचीत करते हुए उन्होंने यह बातें कही। उल्लेखनीय है कि स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और बैन्क्रोफ्ट को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने सजा देते हुए निलंबित किया है। वॉर्नर और स्मिथ को एक-एक साल और बैन्क्रोफ्ट को 9 महीने के लिए निलंबित किया गया है। सभी अभी टीम से बाहर है। मुख्य खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड में सीमित ओवर सीरीज में हार झेली थी। इसके बाद जिम्बाब्वे में टी20 त्रिकोणीय सीरीज में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। लेहमन का मानना है कि प्रमुख खिलाड़ियों के नहीं होने के बावजूद ऑस्ट्रेलिया का प्रदर्शन सुधरेगा। गौरतलब है कि इस वर्ष के अंत में भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया दौरा करना है। उसमें कंगारू टीमका प्रदर्शन देखने लायक रहने वाला है। विश्वकप 2019 तक स्मिथ और वॉर्नर का बैन खत्म हो जाएगा।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now