Create
Notifications

AUS vs IND: तीसरे वनडे में भारतीय टीम में होने चाहिए 3 बदलाव

मनीष पांडे
मनीष पांडे
Naveen Sharma
visit

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दौरे की शुरुआत भारतीय टीम के लिए काफी खराब और निराशाजनक रही है। भारतीय टीम को शुरुआती दोनों वनडे मुकाबलों में हराकर ऑस्ट्रेलिया ने पहले ही सीरीज पर कब्जा जमा लिया है। भारतीय टीम के लिए कुछ भी सही घटित नहीं हुआ है। आईपीएल के बाद भारतीय टीम से इस तरह के प्रदर्शन की उम्मीद किसी ने नहीं की होगी। रोहित शर्मा के नहीं होने से इस टीम के ऊपर पूरा असर पड़ा है। कुछ ही खिलाड़ियों पर यह टीम टिकी हुई नजर आती है। भारतीय टीम कंगारुओं को टक्कर देने में सक्षम है लेकिन मैदान पर प्रदर्शन दिखाई नहीं दिया।

भारतीय टीम का कॉम्बिनेशन अच्छा नहीं रहा। अंतिम ग्यारह में खेलने वाले ज्यादातर खिलाड़ी फ्लॉप साबित हुए। बल्लेबाजी से ज्यादा गेंदबाजी प्रभावित रही और टीम की पराजय में यह बड़ा कारण रहा है। अब भारतीय टीम के पास साख बचाने के लिए सिर्फ एक मैच है और उसमें सही टीम का चयन करना अहम है। भारतीय टीम में अगले मैच के लिए तीन जरूरी बदलाव होने चाहिए, उसके बारे में यहाँ बताया गया है।

भारतीय टीम में होने चाहिए यह बदलाव

नवदीप सैनी की जगह टी नटराजन

टी नटराजन
टी नटराजन

पहले दोनों मैचों में नवदीप सैनी को सभी ने देखा है। उनकी गेंदबाजी में कुछ ख़ास नहीं रहा। ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए नवदीप सैनी की धुनाई की है। सैनी की जगह टी नटराजन को टीम में लाना चाहिए। नटराजन ने आईपीएल में अपना कौशल दिखाया है और फैन्स ने भी उन्हें शामिल करने की मांग की है।

केएल राहुल को कराई जाए ओपनिंग

Australia v India - ODI Game 2
Australia v India - ODI Game 2

केएल राहुल ने दूसरे वनडे मैच में अर्धशतकजरुर लगाया है लेकिन नई गेंद पर भारत को रन बनाने के साथ साझेदारी की जरूरत भी है। केएल राहुल इस जगह के लिए एकदम फिट बैठते हैं। केएल राहुल ने बतौर ओपनर आईपीएल में अपना जलवा दिखाया है। राहुल के ओपन करने से कंगारू गेंदबाजों पर भी ख़ासा दबाव देखने को मिल सकता है।

मयंक अग्रवाल की जगह मनीष पांडे

Australia v India - ODI Game 2
Australia v India - ODI Game 2

मयंक अग्रवाल को पहले दो मैचों में खिलाकर देख लिया, उनके बल्ले से रन नहीं निकले। भारतीय टीम को शुरुआत में विकेट गंवाने का खामियाजा भी भुगतना पड़ा है। मनीष मनीष पांडे के आने से मध्यक्रम में मजबूती मिलेगी और वहां साझेदारी की जरूरत पड़ने पर पांडे काम आएँगे। मनीष पांडे के पास मयंक अग्रवाल की तुलना में अनुभव भी काफी ज्यादा है।

Edited by Naveen Sharma
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now