यूएई टी20 लीग में पाकिस्तान के पहले खिलाड़ी को शामिल किया गया

आजम खान को फ्रेंचाइजी क्रिकेट में खेलने का अनुभव है
आजम खान को फ्रेंचाइजी क्रिकेट में खेलने का अनुभव है

विकेटकीपर बल्लेबाज आजम खान संयुक्त अरब अमीरात लीग के लिए हस्ताक्षर किए जाने वाले पहले पाकिस्तानी खिलाड़ी बन गए हैं। लांसर कैपिटल की टीम डेजर्ट वाइपर्स ने आज़म खान को टीम में शामिल करने के लिए अनुबंधित किया है। अगले साल यूएई की इंटरनेशनल टी20 लीग शुरू होगी।

वह ILT20 में अनुबंध हासिल होने वाले पहले पाकिस्तानी खिलाड़ी हैं, जिसमें पांच अन्य फ्रेंचाइजी हैं, जो सभी भारतीयों के स्वामित्व में हैं। इन टीमों में अभी तक किसी भी पाकिस्तानी खिलाड़ी को शामिल नहीं किया गया है।

पाकिस्तान के पूर्व विकेटकीपर मोइन खान के बेटे आजम (24) ने तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। इसके अलावा उन्होंने पीएसएल में इस्लामाबाद यूनाइटेड और क्वेटा ग्लैडिएटर्स, लंका प्रीमियर लीग में गाले ग्लैडिएटर्स और सीपीएल में बारबाडोस रॉयल्स का प्रतिनिधित्व किया है। फ्रेंचाइजी क्रिकेट में उनके अनुभव को देखते हुए लांसर कैपिटल ने शामिल किया है।

फ्रेंचाइजी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए लिखा कि पाकिस्तान के कीपर बल्लेबाज आजम खान डेजर्ट वाइपर के लिए एक रोमांचक एडिशन हैं। वह टी20 क्रिकेट में स्पिन की दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक हैं, जिनका औसत 35 का है और धीमे गेंदबाजों के खिलाफ उनका स्ट्राइक रेट 160 है। आज़म डेजर्ट वाइपर्स के लिए बीच के ओवरों पर आक्रमण करने के लिए आदर्श रूप से अनुकूल हैं।

डेजर्ट वाइपर्स टीम

सैम बिलिंग्स (इंग्लैंड), शेल्डन कॉटरेल (वेस्टइंडीज), टॉम करन (इंग्लैंड), बेन डकेट (इंग्लैंड), साकिब महमूद (इंग्लैंड), एलेक्स हेल्स (इंग्लैंड), वनिन्दु हससारंगा (श्रीलंका), बेनी हॉवेल (इंग्लैंड), आजम खान (पाकिस्तान), संदीप लामिचाने (नेपाल)

अबू धाबी नाइटराइडर्स, एमआई एमिरेट्स, शारजाह वॉरियर्स, दुबई कैपिटल और गल्फ जायंट्स पांच टीमें हैं, जो भारतीय स्वामित्व वाली हैं। इन टीमों ने पाकिस्तान के खिलाड़ियों को रिक्रूट करने से दूरी बनाई है। भारत और पाकिस्तान के बीच खराब रिश्तों के कारण ऐसा किया गया है।

Edited by Naveen Sharma