बीसीसीआई ने क्रिकेट सलाहकार समिति द्वारा मेहनताना मांगने की ख़बरों को अफवाह बताया

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने उन तमाम बातों पर विराम लगा दिया है, जिनमें यह कहा गया था कि क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण ने कोच के चयन के लिए मेहनताने की मांग की है। इंडियन एक्सप्रेस को सीधा सम्बोधित करने वाली एक प्रेस रिलीज जारी करते हुए बीसीसीआई ने इन सभी बातों को अफवाहें बताया। बोर्ड ने यह कहा कि इन तीनों दिग्गजों ने ऐसी कोई डिमांड नहीं की है और यह सब बातें उनकी छवि को ख़राब भी करती है। बोर्ड के मुख्य कार्यकारी राहुल जोहरी के अनुसार "11 जून को इंडियन एक्सप्रेस ने एक रिपोर्ट जारी की थी जिसमें क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्यों द्वारा कोच के चयन के लिए मीटिंग करने पर मेहनताने की मांग की गई है। बीसीसीआई यह साफ़ करना चाहती है कि यह खबर आधारहीन है और तथ्यों से परे है।" गौरतलब है कि ऐसी ख़बरें आई थी जिनमें यह कहा गया था कि भारतीय टीम के मुख्य कोच के चयन के साथ ही खिलाड़ियों और कोच के साथ एक मीटिंग करने आदि कार्यों के लिए सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और लक्ष्मण की सदस्यता वाली क्रिकेट सलाहकार समिति ने पारिश्रमिक की मांग की है। बोर्ड द्वारा आधिकारिक रूप से इन बातों का खंडन करने के बाद सभी चीजें साफ़ हो गई है।

Edited by Staff Editor