Create
Notifications

रणजी ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी के आयोजन को लेकर बीसीसीआई ने मांगे राज्यों से सुझाव

ANALYST
Modified 29 Jan 2021
न्यूज़

घरेलू सीजन के लिए विजय हजारे ट्रॉफी और रणजी ट्रॉफी में से किसी एक टूर्नामेंट के आयोजन को लेकर बीसीसीआई ने राज्य खेल संघों से पूछा है। ज्यादातर राज्य संघ विजय हजारे ट्रॉफी के आयोजन के पक्ष में नजर आ रहे हैं। बीसीसीआई ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के बाद घरेलू क्रिकेट में अगले टूर्नामेंट के लिए राज्य खेल संघों से राय माँगी है।

क्रिकबज की एक रिपोर्ट के अनुसार कई राज्य संघों ने पुष्टि की है कि उन्हें रणजी ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी के बीच अपने पसंदीदा विकल्प के रूप में चुनने के लिए बोर्ड सचिव जय शाह से कॉल प्राप्त हुआ था। बीसीसीआई जनवरी के अंत तक जिस प्रतियोगिता की मेजबानी करने जा रहा है, उसके विवरण पर अंतिम रूप देना चाहता है।

इस रिपोर्ट में झारखण्ड राज्य संघ की तरफ से कहा गया है कि हमें बोर्ड ने रजनी ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी में से किसी एक टूर्नामेंट के बारे में राय देने के लिए कहा गया है। ज्यादातार राज्य संघ विजय हजारे ट्रॉफी के पक्ष में हैं क्योंकि कम समय में रणजी ट्रॉफी का आयोजन कर पाना संभव नहीं है।

मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (MCA) को विजय हजारे ट्रॉफी पसंद है। यहां तक कि राष्ट्रीय चयन समिति और अध्यक्ष चेतन शर्मा की राय जानने का भी प्रयास किया गया था।

अप्रैल में आईपीएल भी है

अप्रैल में शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के साथ, बीसीसीआई के लिए घरेलू टूर्नामेंट आयोजित करने को लेकर केवल दो महीने की विंडो उपलब्ध है और बोर्ड कुछ और इवेंट में भाग लेना चाहते हैं लेकिन अध्यक्ष सौरव गांगुली रणजी ट्रॉफी के आयोजन के लिए कह सकते हैं।

इस समय सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी अंतिम चरण में है और सेमीफाइनल मुकाबले चल रहे हैं। फाइनल सहित कुल तीन मैच इस टूर्नामेंट में बचे हैं। इन्हें पूरा करने के बाद बोर्ड अगले टूर्नामेंट के बारे में सोचेगा।

Published 29 Jan 2021
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now