ऋद्धिमान साहा को मिली धमकी मामले के लिए बीसीसीआई ने गठित की जाँच समिति

साहा का मामला अब जांच के दायरे में आया है
साहा का मामला अब जांच के दायरे में आया है

बीसीसीआई (BCCI) ने ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) को कथित रूप से एक वरिष्ठ पत्रकार से धमकी मिलने के मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है। साहा ने अपने ट्विटर हैण्डल पर एक चैट का स्क्रीन शॉट शेयर किया गया था जिसे उन्होंने पत्रकार से हुई बातचीत बताते हुए कहा कि मुझे इस तरह धमकी दी गई।

बीसीसीआई ने शुक्रवार को एक विज्ञप्ति में कहा कि तीन सदस्यीय समिति में बीसीसीआई उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला, कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल और शीर्ष परिषद के सदस्य प्रभातेज सिंह भाटिया शामिल होंगे और अगले सप्ताह की शुरुआत में जांच शुरू करेंगे।

श्रीलंका के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज की टीम में नहीं चुने जाने के बाद साहा ने ट्विटर पर एक पत्रकार के मैसेज का स्क्रीन शॉट शेयर किया था। केन्द्रीय अनुबंधित इस खिलाड़ी ने बाद में कहा कि मैं इस व्यक्ति का नाम नहीं बताऊंगा। किसी के परिवार को देखते हुए करियर को नुकसान नहीं पहुँचाने के उद्देश्य से मैं पत्रकार का नाम नहीं बताऊंगा। आगे ऐसा हुआ तो मैं खुद को नहीं रोक पाऊंगा।

साहा ने ट्विटर पर कुछ स्क्रीन शॉट शेयर किये थे
साहा ने ट्विटर पर कुछ स्क्रीन शॉट शेयर किये थे

हालांकि इस मामले में साहा को काफी लोगों का समर्थन भी मिला। उनके साथ कई पूर्व खिलाड़ी खड़े दिखे। इस बीच साहा से यह आग्रह भी किया गया कि स्क्रीन शॉट शेयर करने के बाद नाम भी उजागर करना चाहिए। भारतीय क्रिकेटरों के एसोसिएशन ने भी इस घटना की आलोचना की। बीसीसीआई द्वारा मामले में जांच बैठाने के निर्णय का स्वागत किया गया।

ऋद्धिमान साहा ने राहुल द्रविड़ के साथ हुई व्यक्तिगत बातचीत को भी एक इंटरव्यू में सार्वजनिक कर दिया। उसमें द्रविड़ ने साहा को रिटायरमेंट प्लान के बारे में कहा था क्योंकि टीम मैनेजमेंट अब नया विकेटकीपर तैयार करना चाहता है। इसके अलावा सौरव गांगुली के मैसेज के बारे में भी साहा ने खुलासा कर दिया जिसमें गांगुली ने उनको टीम में जगह के लिए चिंतित नहीं होने की बात कही।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma