Create
Notifications

बिग बैश लीग में लागू हो सकता है इंटरनेशनल खिलाड़ियों के लिए IPL जैसी नीलामी वाला ड्रॉफ्ट सिस्टम 

एडिलेड स्ट्राइकर्स की जर्सी में राशिद खान
एडिलेड स्ट्राइकर्स की जर्सी में राशिद खान
reaction-emoji reaction-emoji
Neeraj

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया अपनी घरेलू टी20 टूर्नामेंट बिग बैश लीग (BBL) के लिए ड्राफ्ट सिस्टम लागू करने की तैयारी में है। इंटरनेशनल खिलाड़ियों के लिए इस ड्राफ्ट के जरिए बोर्ड उम्मीद कर रहा है कि वे टी20 लीग के मार्केट में अपनी जगह बना सकेंगे। कोरोना वायरस के कारण बोर्ड की तैयारियों को दो बार झटका लग चुका है। हालांकि, 2022-23 सीजन में कोरोना का अधिक प्रभाव नहीं होने की संभावना के बीच ऐसी उम्मीद की जा रही है कि ड्रॉफ्ट को आसानी से लागू किया जा सकेगा।

BBL में अब तक राशिद खान, आंद्रे रसेल, निकोलस पूरन, एबी डीविलियर्स, डेल स्टेन और एलेक्स हेल्स जैसे सितारे हालिया सीजनों में खेल चुके हैं। हालांकि, ड्रॉफ्ट के आने से अधिक इंटरनेशनल खिलाड़ियों के आने का रास्ता खुल जाएगा। वर्तमान समय में घरेलू टीमों और विदेशी क्लब के बीच प्राइवेट तरीके से बातचीत जारी है। यदि डील फाइनल होती है तो स्टार खिलाड़ियों से इंट्रेस्ट दिखाने की उम्मीद की जा सकती है।

नए मॉडल में ऐसी उम्मीद है कि खिलाड़ी अपना नाम भेजेंगे तो टीमें इंडियन प्रीमियर लीग की तरह उनके लिए बोली लगाएंगी। ऑस्ट्रेलिया की घरेलू प्रतियोगिता में अपना भाग्य आजमाने वाले खिलाड़ियों के लिए टेलीविजन पर यह इवेंट कराया जाएगा। इस धारणा के साथ अधिक पैसे अर्जित किए जा सकेंगे जिससे कि विदेशी खिलाड़ियों को लुभाया जा सके।

चार कैटेगरी में रखे जा सकते हैं खिलाड़ी

खिलाड़ियों को चार कैटेगरी में रखा जाएगा जिसमें प्लैटिनम, गोल्ड, सिल्वर और ब्रॉन्ज होंगे। प्लैटिनम कैटेगरी वाले खिलाड़ियों को सबसे अधिक 3.4 लाख डॉलर की सैलरी मिलेगी तो वही ब्रान्ज में रहने वाले खिलाड़ी को सबसे कम एक लाख डॉलर की सैलरी मिलेगी। कुछ ऐसे खिलाड़ी हैं जो BBL में एक ही टीम के लिए लंबे समय से खेल रहे हैं और ऐसे खिलाड़ियों को उन्हीं टीम में बने रहने देने के लिए रिटेन का विकल्प भी दिया जाएगा। हालांकि, ऐसा माना जा रहा है कि एक फ्रेंचाइजी को अधिकतम दो ही खिलाड़ी रिटेन करने का विकल्प मिलेगा।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji reaction-emoji

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...