"भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर को प्लेइंग इलेवन में रखना मुश्किल है", पूर्व खिलाड़ी ने बताई अहम वजह 

ब्रैड हॉग ने दोनों स्विंग गेंदबाजों को लेकर दी प्रतिक्रिया
ब्रैड हॉग ने दोनों स्विंग गेंदबाजों को लेकर दी प्रतिक्रिया

भारतीय क्रिकेट में पिछले कुछ समय में तेज गेंदबाजों का आगमन तेजी से हुआ है और मौजूदा समय में टीम के पास एक बेहतरीन पूल मौजूद है। भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण की गहराई को पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ब्रैड हॉग (Brad Hogg) ने भी सराहा है। मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj),अवेश खान (Avesh Khan) और हर्षल पटेल (Harshal Patel) जैसे गेंदबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की अगुवाई में टी20 में प्रभावित करते हुए नजर आये हैं। इन नए गेंदबाजों के प्रदर्शन से कुछ खिलाड़ियों के लिए जगह बनानी भी मुश्किल हो सकती है।

ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के मद्देनजर जसप्रीत बुमराह के साथ तेज गेंदबाजी विभाग के अन्य गेंदबाजों की खोज अभी भी जारी है और इन स्थानों के लिए भारत के पास कई बेहतरीन तेज गेंदबाज मौजूद हैं।

हॉग ने कहा कि भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर जैसे स्विंग गेंदबाजों के लिए प्लेइंग इलेवन में जगह बना पाना मुश्किल हो सकता है। इसके पीछे अहम वजह बताते हुए उन्होंने कहा,

टी20 क्रिकेट में भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण की गहराई जबरदस्त है। अगर मैं भारत की टी20 वर्ल्ड कप के लिए एक टीम चुन रहा हूं, तो मुझे सिराज, अवेश खान और हर्षल पटेल की गेंदबाजी को देखते हुए भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर को रखना मुश्किल होगा।

पूर्व चाइनामैन स्पिनर ने भारतीय स्पिन और श्रेयस अय्यर को लेकर कहा,

उनके पास सबसे अच्छी स्पिन गहराई भी है। टॉप 2 के बाद उनके बल्लेबाज बस धमाका कर रहे हैं। अय्यर ने अच्छा किया है और वह आईपीएल ऑक्शन में सर्वश्रेष्ठ चयन है।

भारत को टी20 वर्ल्ड कप में हराना काफी मुश्किल होने जा रहा है - ब्रैड हॉग

श्रीलंका के खिलाफ सीरीज जीत के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने अभी भी कुछ एरियाज में सुधार की बात कही है। हॉग का भी मानना है कि भारत को अपनी डेथ गेंदबाजी और मध्य के ओवरों में स्पिन गेंदबाजी पर ध्यान देना होगा।

हॉग ने आगे कहा,

मुझे लगता है कि रोहित शर्मा बीच के ओवरों में डेथ गेंदबाजी और स्पिन में कुछ एरियाज को देख रहे होंगे। मुझे हिसाब से उन्हें लगता है कि स्पिन में थोड़ी अधिक विविधता हो सकती है। कुलदीप यादव और जडेजा, बहुत अच्छी गुणवत्ता वाले गेंदबाज हैं, लेकिन जब दबाव में होता है, तो विपक्षी टीम उन्हें खेलने में सक्षम होती है।

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने अपनी बात के पीछे तर्क देते हुए कहा,

जब श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने कुलदीप को आउट किया तो उनके पास काउंटर अटैक करने के लिए एक भी गेंद नहीं थी। जब टर्न नहीं होता, तो जडेजा कभी-कभी थोड़ी तेज गेंदबाजी करते हैं, मैदान पर हिट करना आसान हो जाता है, इसलिए वहां थोड़ा सुधार की जरूरत है। टी20 वर्ल्ड कप में भारत को हराना मुश्किल होगा।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar