भारतीय मैचों में ड्रोन का इस्तेमाल करने की मिली अनुमति

नागरिक उड्डयन मंत्रालय और नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने सोमवार को कहा कि उन्होंने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को भारतीय क्रिकेट की लाइव एयरनेमैटोग्राफी के लिए ड्रोन की तैनाती के लिए सशर्त छूट दी है। इस साल दी गई यह अनुमति दिसम्बर 2021 के लिए मान्य है। देश में ड्रोन तकनीक के प्रसार को बढ़ावा देने की तरफ देखते हुए बीसीसीआई को यह छूट मिली है।

मंत्रालय के आदेश में कहा गया है कि BCCI को स्थानीय प्रशासन, रक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय, भारतीय वायु सेना से वायु रक्षा मंजूरी और हवाई अड्डा प्राधिकरण से आवश्यक मंजूरी लेनी होगी। पायलेटड एयरक्राफ्टे सिस्टम का इस्तेमाल करने से पहले यह मंजूरी लेनी होगी।

आगामी मैचों में दिख सकता है बदलाव

हालांकि ड्रोन सिस्टम से मैचों को कवर करने की दिशा में यह सिर्फ पहला कदम माना जा सकता है। मैचों के प्रसारण में इस्तेमाल के लिए अभी कुछ समय लग सकता है। ड्रोन से मैचों को कवर करने के लिए भी कई तरह की शर्तें और नियमों का पालन करना होगा। इसके लिए एक पूर्ण गाइडलाइन के तहत जाना होगा।

भारत में ड्रोन का इस्तेमाल कृषि और अन्य क्षेत्रों में किया जा रहा है। ड्रोन तकनीक का विकास देश में तेजी से हो रहा है, इसे देखते हुए सरकार ने बीसीसीआई को भी क्रिकेट कवर करने के लिए इसमें छूट प्रदान की है। हालांकि किन मैचों में और कब इस तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा, इसके बारे में आने वाले समय में ही पता चलेगा।

भारत और इंग्लैंड सीरीज में शायद यह तकनीक इस्तेमाल नहीं की जाएगी लेकिन बीसीसीआई इस पर जल्दी ही काम शुरू करेगी। ड्रोन कवरेज से मैचों की खूबसूरती किस तरह की होगी यह भी एक बड़ा सवाल है जिसका जवाब भी समय आने पर ही पता चल पाएगा। फ़िलहाल मैदान पर स्पाई कैम से नीचे के दृश्य कैप्चर होते हैं।

Quick Links

Edited by निरंजन