सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों के साथ आईपीएल खेलने का कोई मतलब नहीं- चेन्नई सुपर किंग्स

चेन्नई सुपर किंग्स
चेन्नई सुपर किंग्स

चेन्नई सुपर किंग्स ने उस आइडिया को सिरे से खारिज कर दिया है, जिसमें कहा गया था कि आईपीएल के 13वें सीजन का आयोजन सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों को लेकर हो। सीएसके ने कहा कि इस तरह के आईपीएल का कोई मतलब नहीं है, क्योंकि अगर सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों को लेकर आईपीएल खेलेंगे तो ये सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी की तरह लगेगा।

ये भी पढ़ें: मिचेल सैंटनर ने एम एस धोनी के मैदान में आकर अंपायरों से बहस करने को लेकर दिया बड़ा बयान

चेन्नई सुपर किंग्स के एक अधिकारी ने नाम ना छापने की शर्त पर पीटीआई से बातचीत में कहा कि चेन्नई सुपर किंग्स सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों को लेकर आईपीएल खेलने के लिए तैयार नहीं है। अगर ऐसा हुआ तो ये एक और सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी की तरह ही लगेगा। फ्रेंचाइजी ने अभी तक बीसीसीआई से इस बारे में कोई बात नहीं की है क्योंकि हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं। उम्मीद करते हैं कि इस साल के अंत तक आईपीएल का आयोजन हो सकेगा।

ये भी पढ़ें: युवराज सिंह ने 2014 के वर्ल्ड टी20 फाइनल को किया याद, कहा मेरे घर पर फेंके गए थे पत्थर

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के कारण आईपीएल को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया है। भारत में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, इसकी वजह से आईपीएल का आयोजन संभव नहीं है। यही वजह है कि सिर्फ भारतीय खिलाड़ियों को लेकर आईपीएल आयोजन कराने का भी सुझाव सामने आया था। हालांकि चेन्नई सुपर किंग्स जैसी दिग्गज टीम ने इस आइडिया को सिरे से नकार दिया है।

अगर आईपीएल का आयोजन नहीं होता है तो इससे बीसीसीआई को काफी नुकसान होगा। कुछ दिनों पहले ही बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने कहा था कि आईपीएल कैंसिल होने पर बोर्ड को 4 हजार करोड़ का नुकसान होगा।

ये भी पढ़ें: सुरेश रैना ने 2011 वर्ल्ड कप को लेकर दिया बड़ा बयान, एम एस धोनी और सचिन तेंदुलकर का खास जिक्र

वहीं ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप पर भी खतरा मंडरा रहा है। कोरोना के कारण उसे अगले साल तक के लिए कैंसिल किया जा सकता है। भारत में अगर हालात बेहतर हुए तो सितंबर-अक्टूबर तक आईपीएल का आयोजन बंद दरवाजे के पीछे कराया जा सकता है।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
App download animated image Get the free App now