बुमराह की जगह अगर चेतेश्वर पुजारा को कप्तान बनाया जाता तो ज्यादा अच्छा होता, चौंकाने वाला बयान

चेतेश्वर पुजारा के पास काफी सारा अनुभव है
चेतेश्वर पुजारा के पास काफी सारा अनुभव है

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व सलामी बल्लेबाज वसीम जाफर ने कहा है कि इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम टेस्ट मैच के लिए जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की जगह चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) को कप्तान बनाया जाना चाहिए था। वसीम जाफर के मुताबिक बुमराह को कप्तानी करने का बिल्कुल भी अनुभव नहीं है और इसी वजह से उन्हें इतने बड़े मुकाबले के लिए कप्तान बनाने का फैसला सही नहीं है।

दरअसल रोहित शर्मा के कोविड की वजह से बाहर होने के बाद जसप्रीत बुमराह को भारतीय टेस्ट टीम का कप्तान नियुक्त किया गया है। वो इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन टेस्ट मैच में कप्तानी करेंगे। यह गेंदबाज भारत का 36वां टेस्ट कप्तान होगा। इंग्लैंड के खिलाफ बुमराह कप्तान और ऋषभ पंत उप कप्तान के रूप में नजर आएंगे।

बुमराह के पास कप्तानी का अनुभव नहीं है - वसीम जाफर

हालांकि वसीम जाफर को लगता है कि चेतेश्वर पुजारा कप्तान के रूप में ज्यादा सही विकल्प होते। ईएसपीएन क्रिकइन्फो पर बातचीत के दौरान उन्होंने कहा,

चेतेश्वर पुजारा को मैंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में कप्तानी करते हुए देखा है। वो काफी बेहतरीन लीडर हैं। वो अभी तक 90 (95) टेस्ट मैच खेल चुके हैं। इसलिए मुझे लगता है कि उन्हें कप्तान बनाना ज्यादा सही होता। बुमराह उप कप्तान थे इसलिए उन्हें कप्तानी मिलनी ही थी लेकिन मैच की अहमियत को देखते हुए मैं पुजारा को कप्तान नियुक्त करता। बुमराह ने अभी तक कप्तानी नहीं की है। बिना किसी अनुभव के इस तरह के मैच में कप्तानी करना आसान नहीं होगा। हालांकि हार्दिक पांड्या की तरह वो भी सरप्राइज कर सकते हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले जसप्रीत बुमराह ने पूर्व कप्तान एम एस धोनी का उदाहरण दिया था कि कैसे उन्होंने डायरेक्ट भारतीय टीम की कप्तानी की थी और सबसे सफल कप्तान बने। उन्होंने कहा कि मुझे चुनौतियां पसंद हैं और ये उससे अलग नहीं है।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
App download animated image Get the free App now