Create
Notifications

विराट कोहली द्वारा अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच न खेलने के फैसले से हैरान हुए माइकल क्लार्क

मयंक मेहता

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के अगले महीने अफगानिस्तान के खिलाफ होने वाले ऐतिहासिक टेस्ट में खेलने के फैसले से ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क काफी हैरान हुए हैं। विराट कोहली जून में इंग्लैंड दौरे की तैयारी के लिए जून में सरे के लिए काउंटी क्रिकेट खेलने वाले हैं। क्रिकेट एक्सपर्ट बोरिया मजूमदार के साथ खास बातचीत के दौरान क्लार्क ने कहा, "मुझे इस फैसले को सुनकर काफी हैरानी हुई है। मेरे हिसाब से एक टेस्ट मैच को मैच की तरह ही लेना चाहिए, इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आपका विरोधी कौन है। देश के लिए खेलना आपके लिए सबसे ऊपर होना चाहिए। मेरे लिए देश के लिए खेलना सबसे बड़ी बात थी। मैं चाहूंगा कि वो थोड़ा समय निकालकर इस टेस्ट के लिए उपलब्ध रहे।" साल 2014 में जब भारत में इंग्लैंड का दौरा किया था, तो कोहली के लिए वो सीरीज काफी खराब रही थी। वो 5 मैचों की सीरीज में सिर्फ 13.4 की औसत से 134 रन ही बना पाए थे। हालांकि क्लार्क ने उम्मीद जताई है कि कोहली का काउंटी क्रिकेट खेलने के फैसले से उन्होंने यह संदेश दिया है कि वो इंग्लैंड में जीतने के लिए जा रहे हैं। इंग्लैंड दौरे के बाद इस साल के अंत में भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया का भी दौरा करना है और वहां भी भारतीय टीम आजतक कोई सीरीज नहीं जीती है। इसको लेकर क्लार्क ने कहा, "भारत ने कभी भी ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में नहीं हराया है, लेकिन इस बार वो ऐसा कर सकते हैं। इस समय विराट कोहली, रवि शास्त्री और भारतीय टीम इसी बारे में सोच रहे होंगे।" भारतीय टीम अगले महीने 14 जून से अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच खेलेगी, जिसमें अजिंक्य रहाणे भारती टीम की कप्तानी करने वाले हैं। हालांकि भारत की असली परीक्षा जुलाई में होने वाले इंग्लैंड दौरे में होगी, जहां भारत को तीन टी20 , 5 टेस्ट और 3 एकदिवसीय मैचों की सीरीज खेलनी है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...