5 युवा कैरेबियाई खिलाड़ी जो हो सकते हैं भविष्य के स्टार

c1

वेस्टइंडीज क्रिकेट के लिए अभी सब कुछ सही चल रहा है। वर्ल्ड टी20 की ट्रॉफी भी अभी उनके हाथ में है जो अपने आप में एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। दुनिया के सभी बड़े क्रिकेटर्स वेस्टइंडीज में चल रहे CPL का हिस्सा बन रहे हैं। बस अबसे कुछ ही दिनों में वेस्टइंडीज की टीम भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ भी शुरू कर रही है। वेस्टइंडीज ने अपना आखिरी टेस्ट मैच साल 2015 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ जीता था। जब उनकी टीम में शिवनारायण चंद्रपॉल जैसे खिलाड़ी खेला करते थे। पूरे 22 महीनों में ये उनकी एक जीत थी और साथ ही साथ इतने दिनों में वेस्टइंडीज टीम ने 9 टेस्ट मैच हारे हैं जबकि 3 टेस्ट ड्रॉ करने में कामयाब हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ भारतीय टीम ने पिछले एक साल में कुल 6 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उन्हें 5 में जीत और एक में हार का सामना करना पड़ा था। भारत आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में वेस्टइंडीज से छह पायदान ऊपर हैं और दूसरे स्थान पर काबिज है। बात अगर वेस्टइंडीज टीम की करें तो उनके पास ऐसे कई युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं जो टेस्ट में बेहतर साबित हो सकते हैं। उन प्रतिभाशाली खिलाड़ियों में से 5 खिलाड़ी ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें आप जानना चाहेंगे। #1 रहकीम कॉर्नवाल रहकीम कॉर्नवाल भी उसी जगह से आते हैं जहां क्रिकेट के लिजेंड विवियन रिचर्ड्स रहने वाले हैं। रहकीम कॉर्नवाल बरमुडा ड्वेंस लेवररॉक के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी हैं। जिन्होंने बल्ले और बॉल दोनों से ही पिछले दो सालों में कमाल का प्रदर्शन किया है। इस ऑलराउंडर ने लगातार पांच विकेट हासिल किए हैं और एक बेहतर स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी भी की है। 10 मैचों में 48 विकेट लेकर, कॉर्नवाल 2015/16 के घरेलू सीज़न में दूसरे सबसे कामयाब गेंदबाज रहे थे। जिसमें उनकी पारी में पांच विकेट भी शामिल थी। साथ ही साथ उन्होंने बल्ले से भी कमाल का प्रदर्शन किया था और 70 की औसत से रन भी बनाए थे। कॉर्नवाल ने कुल 17 मैचों में 24.2 के औसत से 77 विकेट लिए थे और बल्लेबाज़ी करते हुए उनके नाम एक शतक भी रहा। #2 शाई होप c2 22 वर्षीय इस युवा बल्लेबाज़ ने वेस्टइंडीज दौरे पर गई भारतीय टीम के गेंदबाजों के खिलाफ शतक जड़ कर खुद को साबित कर दिया है। वेस्टइंडीज दौरे पर अपना अभ्यास मैच खेल रही टीम इंडिया के विरुद्ध होप ने शानदार बल्लेबाज़ी की और ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार और अमित मिश्रा जैसे बेहतरीन गेंदबाज़ों के सामने अच्छा प्रदर्शन किया। इस सलामी बल्लेबाज़ के पास विकेटकीपिंग का भी विकल्प है। होप पूरे दिन नाबाद रहे जबकि दूसरी तरफ से वेस्टइंडीज के लगातार विकेट गिरते चले जा रहे हैं। होप के नाम एक दोहरा शतक भी है जिसे वेस्टइंडीज टीम भुला नहीं सकती। साल 2014/15 के सीज़न में होप के 9 मैचों में कुल 628 रन हैं। उन्होंने अपने पिछले सीज़न में कुल छह मैचों में 538 रन बनाए हैं। आने वाली भारतीय सीरीज़ होप के लिए एक बड़ा मौका साबित हो सकती है। #3 रोस्टन चेज़ c3 होप की ही तरह चेज़ भी एक बेहतरीन युवा खिलाड़ी हैं। 24 वर्षीय रोस्टन चेज़ बारबाडोस से आते हैं और वेस्टइंडीज घरेलू क्रिकेट में कमाल का प्रदर्शन किया है। चेज़ ने 42.9 के बेहतरीन औसत से 29 टेस्ट मैचों में 1672 रन बनाए हैं। चेज़ को वेस्टइंडीज टीम का बेहतरीन मध्यक्रम का बल्लेबाज़ माना जा रहा ही। भले ही उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 136 ही है पर वो लगातार अर्द्धशतक लगाते रहते हैं और बल्लेबाज़ी में निरंतर रहते हैं। साल 2015/16 के घरेलू सीज़न में रोस्टन चेज़ ने छह अर्द्धशतक जड़े थे जो कि लीग में सबसे ज़्यादा थे। भले ही चेज़ भारत के खिलाफ वार्म-अप मैच में नहीं चले थे और 3 रन पर अमित मिश्रा का शिकार हो गए थे, पर वो दूसरे मैच में वापसी कर टेस्ट टीम में जगह बनाना चाहेंगे। #4 जोमल वारिकन c4 1970 -80 के दशक से वेस्टइंडीज टीम में तेज़ गेंदबाजों का बोलबाला रहा है। सभी विरोधी टीम वेस्टइंडीज के तेज़ गेंदबाजों से डरती रही है, पर अब पिछले कुछ वक़्त से तेज़ गेंदबाजों के साथ साथ स्पिन गेंदबाजों ने भी इस टीम को काफी ऊंचाईयां प्रदान की है। इन स्पिन गेंदबाजों में सबसे ऊपर नाम आता है सुनील नारेन का। नारेन के साथ साथ सैमुएल बद्री और सुलेमान बेन जैसे भी स्पिनर हैं जो टीम के लिए बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। इन सब के अलावा वेस्टइंडीज टीम को एक और युवा स्पिनर मिल गया है जिसे जोमल वारिकन के नाम से जाना जाता है। जोमल ने वार्मअप मैच में दिग्गज बल्लेबाज़ विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे का विकेट लेकर खुद को भी टेस्ट मैच खेलने का दावेदार बना दिया है। जोमल ने पिछले दो सालों में घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है। पिछले साल टेस्ट में डेब्यू करने के बाद जोमल ने अब तक 4 टेस्ट मैच खेले हैं और 11 विकेट अपने नाम कर पाये हैं। उन्होंने अपना पहला मैच खेलते हुए श्रीलंका के विरुद्ध 67 रन देकर 4 विकेट हासिल किए थे। जोमल को भारत के खिलाफ टेस्ट स्क्वाड में जगह मिलने की संभावना है। #5 गुड़केश मोटी c5 गुड़केश मोटी को घरेलू सीज़न का उभरता हुआ सितारा माना जा रहा है। 21 वर्षीय दाएं हाथ का ऑरथोडॉक्स गेंदबाज आने वाले समय में वेस्टइंडीज के लिए एक बड़ा खिलाड़ी बन सकता है। मोटी ने घरेलू सीज़न में बेहतरीन गेंदबाजी की है जिसमें उनका बेहतरीन प्रदर्शन 6/20 और 5/85 रहा है। उन्होंने साल भर पहले ही एफ़सी में अपना डेब्यू किया था। इसलिए हो सकता है कि भारतीय सीरीज़ के लिए उन्हें टीम में शामिल किया जा सकता है।

App download animated image Get the free App now