क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ जेम्स सदरलैंड ने दिया इस्तीफा

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ जेम्स सदरलैंड ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। बुधवार सुबह मेलबर्न में उन्होंने इसका ऐलान किया। अभी उन्होंने 12 महीने का नोटिस दिया है तब तक वो अपने पद पर बने रहेंगे। हालांकि उन्होंने इस बात से इन्कार कर दिया कि बॉल टैंपरिंग मुद्दे को लेकर उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दिया है। एक प्रेस रिलीज जारी कर सदरलैंड ने कहा कि लगभग 20 साल तक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में काम करने के बाद अब इसे छोड़ने का सही समय है। मुझे लगता है कि ये मेरे लिए उपयुक्त समय है और खेल के लिए भी अच्छा है। उन्होंने कहा कि पिछले 12 महीनों में हमने कई सारे ऐसे फैसले लिए जिससे ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट को आगे चलकर काफी फायदा होगा। इसीलिए मैंने सोचा कि किसी दूसरे को अब सीईओ की जिम्मेदारी मिलनी चाहिए। मेरी जगह पर जो भी व्यक्ति आएगा, उसके लिए एक मजबूत बुनियाद रख दी गई है। पिछले 20 सालों से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ काम करना मेरे लिए काफी सम्मान की बात रहा।

गौरलतलब है जेम्स सदरलैंड पहली बार 1998 में जनरल मैनेजर के तौर पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से जुड़े थे। तब इसे ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट बोर्ड के नाम से जाना जाता था। 3 साल बाद 2001 में उन्हें मैल्कम स्पीड की जगह चीफ एग्जीक्यूटिव नियुक्त किया गया। उनके कार्यकाल की उपलब्धियों पर अगर नजर डाला जाए तो ऑस्ट्रेलियन क्रिकेट टीम ने इस दौरान 2003 और 2007 का क्रिकेट विश्व कप अपने नाम किया। इसके अलावा उन्होंने बिग बैश लीग टूर्नामेंट की शुरुआत की जो कि काफी सफल रही। डे-नाइट टेस्ट मैच भी उनकी उपलब्धियों में से एक रहा। दक्षिण अफ्रीका में हुए बॉल टैंपरिंग की घटना के बाद स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर जैसे बड़े खिलाड़ियों को एक साल के लिए निलंबित करना पड़ा था। इसके बाद टीम के कोच डेरेन लेहमैन ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था और अब जेम्स सदरलैंड ने भी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को गुडबॉय बोल दिया है।