Create

क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019: 11 स्पिनर्स जिनका प्रदर्शन देखने लायक होगा

Enter caption

क्रिकेट के महाकुंभ वर्ल्ड कप की शुरुआत 30 मई से होने वाली है। टूर्नामेंट का आगाज इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के मैच के साथ होगा।इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और भारतीय टीम वर्ल्ड कप खिताब जीतने की प्रबल दावेदार मानी जा रही है लेकिन पिछले वर्ल्ड कप की उपविजेता न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका को भी किसी भी मामले में कम नहीं आंका जा सकता है। इस साल सभी टीमों में अच्छे स्पिनर खेल रहे हैं।

हालांकि इंग्लैंड की पिचों पर स्पिनर गेंदबाज उतने मददगार नहीं रहे हैं लेकिन ऐसा भी नहीं कहा जा सकता है कि स्पिन गेंदबाज इस वर्ल्ड कप में किसी भी काम नहीं आ सकते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो यह वर्ल्ड कप हाई-स्कोरिंग होगा। ऐसे समय मे स्पिनर गेंदबाज जोड़ी तोड़ने के काम आ सकते हैं।

आज हम आपको इस टूर्नामेंट में खेलने वाले उन 11 स्पिनर्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी स्पिन गेंदबाजी देखने लायक रहेगी।

# 11. मुजीब उर रहमान (अफगानिस्तान):

Enter caption

18 वर्षीय अफगान स्पिनर मुजीब उर रहमान ने बहुत कम समय में ही आईसीसी वनडे रैंकिंग में शीर्ष 10 गेंदबाजों में अपना स्थान बना लिया है। मुजीब उर रहमान ने अब तक 30 वनडे मैच खेला है जिसकी 29 पारियों में उन्होंने 20.02 की औसत से 51 विकेट चटकाए हैं। टूर्नामेंट में उनकी स्पिन गेंदबाजी देखने लायक रहेगी।

#10. तबरेज शम्सी (दक्षिण अफ्रीका):

Enter caption

29 वर्षीय दक्षिण अफ्रीकी स्पिनर तबरेज शम्सी 'स्लो लेफ्ट आर्म चाइनामैन' गेंदबाजी करते हैं। उन्होंने अब तक 15 वन-डे मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 35.89 की औसत से 19 विकेट चटकाए हैं। टूर्नामेंट में उनकी भी गेंदबाजी देखने लायक रहेगी।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#9. मिचेल सैंटनर (न्यूजीलैंड):

Enter caption

27 वर्षीय कीवी स्पिन गेंदबाजी ऑलराउंडर मिचेल सैंटनर 'लेफ्ट आर्म ऑर्थोडॉक्स' गेंदबाजी करते हैं। उनकी स्पिन गेंदबाजी न्यूज़ीलैंड के लिए बहुत काम आ सकती है। सैंटनर ने अब तक 59 वन-डे मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 34.71 की औसत से 63 विकेट चटकाए हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 5/50 का रहा है।

#8. आदिल रशीद (इंग्लैंड)

Enter caption

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि यह वर्ल्ड कप इंग्लैंड में खेला जाएगा, ऐसे में अंग्रेजी स्पिन गेंदबाजी ऑलराउंडर आदिल रशीद की 'राइट आर्म लेग ब्रेक' गेंदबाजी उनके टीम के लिए बेहद काम आ सकती है। 31 वर्षीय आदिल रशीद ने 87 वन-डे मैचों में 30.46 की औसत से 132 विकेट चटकाए हैं। उन्होंने 2 बार 5 विकेट भी लिया है। टूर्नामेंट में उनकी गेंदबाजी देखने लायक रहेगी।

#7. राशिद खान (अफगानिस्तान):

Enter caption

अफगानिस्तान के मिस्ट्री स्पिनर राशिद खान ने पूरे विश्व में अपने शानदार गेंदबाजी का लोहा मनवाया है। वे अकेले ही किसी टीम के बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त करने में सक्षम हैं। राशिद खान के नाम वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 100 विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने 58 वन-डे मैचों की 56 पारियों में 15.34 की औसत से 125 विकेट चटकाए हैं।

#6. नाथन लॉयन (ऑस्ट्रेलिया):

Enter caption

ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी स्पिनर नाथन लॉयन ने इसी साल भारत के खिलाफ वन-डे क्रिकेट में वापसी की थी। नाथन लॉयन का टेस्ट क्रिकेट में अनुभव तो बहुत है लेकिन वन-डे क्रिकेट में उन्होंने अब तक 25 मैच ही खेले हैं जिसमें उन्होंने 44.35 की औसत से 26 विकेट चटकाए हैं। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि लॉयन किस तरह से इस मौके का लाभ उठा सकते हैं। उनकी अच्छी गेंदबाजी ऑस्ट्रेलिया के लिए बहुत काम आ सकती है।

#5. इश सोढ़ी (न्यूजीलैंड):

Enter caption

न्यूजीलैंड के 26 वर्षीय 'राइट आर्म लेग ब्रेक' गेंदबाज इश सोढ़ी इंग्लैंड की पिचों पर 'जोड़ी ब्रेकर' की भूमिका में नजर आ सकते हैं। हालांकि उन्होंने अब तक सिर्फ 30 वनडे-मैचों में हिस्सा लिया है, जिसमें 35.77 की औसत से 39 विकेट चटकाए हैं। सोढ़ी अपनी टीम के लिए इंग्लैंड में कैसा प्रदर्शन करते हैं यह देखना बेहद दिलचस्प होगा।

#4. एडम जम्पा (ऑस्ट्रेलिया):

Enter caption

ऑस्ट्रेलिया के 'राइट आर्म लेग ब्रेक' गेंदबाज एडम जम्पा ने पिछले कुछ समय से खुद को सीमित ओवरों के क्रिकेट में बेहतर स्पिन गेंदबाज के रूप में साबित किया है। उन्होंने भारत और पाकिस्तान के खिलाफ पिछले वन-डे सीरीजों में भी शानदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने अब तक कुल 44 वन-डे मैचों में हिस्सा लिया है, जिसमें उन्होंने 34.45 की औसत से 60 विकेट चटकाए हैं। वे इंग्लैंड की पिचों पर किस तरह का प्रदर्शन करते हैं यह देखना बेहद दिलचस्प होगा।

#3. युजवेंद्र चहल (भारत):

Enter caption

हरियाणा के 'राइट आर्म लेग ब्रेक' गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने जब से भारतीय टीम में अपनी जगह बनाई है, तब से रविंचंद्रन आश्विन बाहर हो गए हैं। उन्होंने कुलदीप यादव के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका दौरे पर खूब धमाल मचाया था। वे आईसीसी वन-डे रैंकिंग में शीर्ष 10 गेंदबाजों में शामिल हैं। उन्होंने अपने वन-डे करियर में अब तक 41 मैच खेले हैं जिसकी 40 पारियों में 72 विकेट चटकाए हैं। युजवेंद्र चहल से भारतीय क्रिकेट प्रेमियों को दक्षिण अफ्रीका दौरे जैसे प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी।

#2. कुलदीप यादव (भारत):

Enter caption

24 वर्षीय लेफ्ट आर्म चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने बीते कुछ वर्षों से अपने आप को सीमित ओवरों का सबसे अच्छा स्पिनर साबित किया है। वे पिछले साल विश्व में सर्वाधिक विकेट लेने के मामले में दूसरे स्थान पर थे, जबकि इस साल भी वे सर्वाधिक विकेट लेने के मामले में दूसरे स्थान पर हैं। उन्होंने 44 मैचों की 42 पारियों में 21.75 की औसत से 87 विकेट चटकाए हैं। उनकी और युजवेंद्र चहल की जोड़ी भारत को खिताब दिलाने में मदद कर सकती है।

#1. इमरान ताहिर:

Enter caption

दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी स्पिनर इमरान ताहिर हाल ही में बीते आईपीएल सीजन के पर्पल कैप विजेता रहे हैं। वे अपना तीसरा एवं आखिरी वर्ल्ड कप खेलने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। इमरान ताहिर की गेंदबाजी दक्षिण अफ्रीका के लिए बहुत मायने रखेगी। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका की ओर से 98 वन-डे मैचों की 96 पारियों में 24.22 की औसत से 162 विकेट चटकाए हैं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment