Create
Notifications

पिछले हफ्ते के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर (5 से 11 फरवरी)

जितेंद्र तिवारी
visit

इस हफ्ते तीन मुकाबले हुए और इन्हीं में से हमने 5 को अपने क्रिकेटर ऑफ़ द वीक चुना है। दक्षिण अफ्रीका ने श्रीलंका को वनडे सीरिज में 5-0 से हराया। वहीं भारतीय टीम ने बांग्लादेश के खिलाफ 687 रन का स्कोर बनाया। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया न्यूज़ीलैंड से 2-0 से हार गया। इस दौरान कई दिलचस्प पारियां देखने को मिलीं। हम एक नजर डालते हैं इन शीर्ष क्रिकेटरों पर तो पाते हैं कि मुरली विजय शतक बनाने के बाद आउट हुए तो वहीं क्विंटन डीकाक ने 87 गेंदों में 109 रन की पारी खेली। वहीं थरंगा और गुणारत्ने ने शतकीय पारी खेली फिर भी टीम को हार से नहीं बचा सके। फाफ डुप्लेसिस श्रीलंका के खिलाफ केपटाउन में फाफ डु प्लेसी ने 141 गेंदों में 185 रन की शानदार पारी खेली। हाशिम अमला के जल्द आउट होने की वजह से डु प्लेसी को जल्द बल्लेबाज़ी के लिए मैदान पर आना पड़ा था। इस पारी में फाफ ने 16 चौके और 3 चक्के लगाये थे। वह पारी के आखिरी ओवर में आउट जिसकी वजह से दक्षिण अफ्रीका के लिए वनडे में पहला दोहरा शतक बनाने से चूक गये। फाफ के शतक की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने 50 ओवर में 367 रन बनाये थे। इसके बावजूद श्रीलंका ने स्कोर का अच्छी तरह से पीछा किया जिसमें थरंगा ने 90 गेंदों में 119 रन बनाये। 16 में श्रीलंका ने 139 रन जोड़े थे। लेकिन वह मैच 40 रन से हार गये। श्रीलंका का स्कोर एक समय 44 ओवर में 307 रन पर 4 विकेट था। लेकिन टीम 327 रन पर सिमट गयी। हाशिम अमला अमला ने 134 गेंदों में 154 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका को लगातार 11वीं जीत दिलाने में अहम योगदान दिया। इस मैच में उन्होंने 15 चौके और 5 छक्के लगाये। ये मैच सेंचुरियन में श्रीलंका के खिलाफ खेला गया। इस मैच में अमला ने डीकॉक के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 187 रन बनाये। इस बेहतरीन साझेदारी के बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने 50 ओवर में 6 विकेट गवांकर 384 रन का लक्ष्य रखा था। इस पारी के दौरान अमला को ज्यादा स्ट्राइक नहीं मिला था और वह 49 ओवर तक टिके रहे। लेकिन इतने बड़े लक्ष्य के सामने श्रीलंकाई टीम की शुरुआत खराब रही। लेकिन एसेला गुणाररत्ने की शतक की मदद से टीम 296 रन तक पहुंच गयी थी। लेकिन फिर भी श्रीलंका ये मैच 80 रन से हार गया था। विराट कोहली बांग्लादेश के खिलाफ 246 गेंदों में कोहली ने 204 रन की पारी खेली। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 82 से ज्यादा रहा। लेकिन लगातार चार दोहरा शतक बनाने वाले कोहली दुनिया के पहले बल्लेबाज़ बन गये। वह इस मामले में राहुल द्रविड़ और डॉन ब्रैडमैन से भी आगे निकल गये। इस मैच में ऋद्धिमान साहा और मुरली विजय ने भी शतक ठोंके थे। जिसकी मदद से भारत ने पहली पारी 687 रन पर घोषित कर दिया था। इस तरह लगातार 600 से ज्यादा रन बनाने वाली टीम भी भारत बन गया। रॉस टेलर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रॉस टेलर का बल्ला हमेशा चला है। हाल ही में 3 मैचों की वनडे सीरिज में न्यूज़ीलैंड ने कंगारुओं को हराया है। जिसमें हैमिल्टन में खेले गये तीसरे मैच में टेलर ने शतकीय पारी खेली थे। 15 ओवर में 76 पर कीवी टीम 2 विकेट गवां चुकी थी। जिसके बाद टेलर ने 101 गेंदों में 107 रन की पारी खेली। इस पारी में उनके बल्ले से 13 चौके निकले थे। इस पारी के बदौलत कीवी टीम 50 ओवर में 281 रन बनाने में सफल हुई। कमिंस, फाकनर, हेजलवुड और मिचेल स्टार्क ने 63 रन देकर 3 विकेट लिए थे। जवाब ऑस्ट्रेलिया 47 ओवर में 257 रन पर सिमट गया था। इसके साथ टेलर ने न्यूज़ीलैंड की तरफ से ज्यादा 16 शतक लगाने वाले नाथन एस्टल के रिकॉर्ड की बराबरी भी कर ली। ट्रेंट बोल्ट हैमिल्टन में तीसरे वनडे में ट्रेंट बोल्ट ने 33 रन देकर 6 विकेट लिए थे। उनकी इस गेंदबाज़ी के लिए उन्हें मैन ऑफ़ द मैच का अवार्ड भी मिला। बौल्ट ने फॉर्म में चल रहे हैंड्सकॉम्ब और ट्रैविस हेड के अलावा फाकनर को आउट करके ऑस्ट्रेलियाई मध्यक्रम के साथ निचले क्रम को भी झकझोर दिया। इस पारी में इस युवा 27 वर्षीय गेंदबाज़ ने 1 ओवर मेडन रखते हुए सिर्फ साढ़े तीन के इकॉनमी से गेंदबाज़ी की। लेखक-कृष्ण श्रीपद, अनुवादक-जितेन्द्र तिवारी

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now