Create
Notifications

दीपक हूडा अब राजस्थान की टीम के साथ जुड़ सकते हैं

निरंजन

बड़ौदा की टीम को उस समय बड़ा झटका लगा जब दीपक हूडा (Deepak Hooda) ने टीम छोड़ने का ऐलान कर दिया। टीम में ही कुछ खिलाड़ियों के साथ अनबन के बाद हूडा ने यह निर्णय लिया। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में क्रुणाल पांड्या के साथ उनका झगड़ा हुआ था और बाद में दीपक हूडा को सजा मिली लेकिन पांड्या को लेकर कुछ नहीं हुआ। शायद इस बाद से दुखी होकर हूडा ने टीम छोड़ने का निर्णय लिया। अब खबर यह आई है कि दीपक हूडा राजस्थान (Rajasthan) की टीम से खेल सकते हैं।

सपोर्टस्टार से बातचीत में उन्होंने अपने निर्णय को लेकर कहा कि बड़ौदा को छोड़ना निश्चित रूप से एक दुखद अहसास है, जिसके लिए मैंने अपने पूरे करियर में खेला है। लेकिन मैंने अपने कोचों, शुभचिंतकों से बात की और सोचा कि यह मेरे लिए सही फैसला है।

इस ऑलराउंडर ने पहले ही बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त कर लिया है जो उनको किसी अन्य टीम में शामिल होने के योग्य बनाता है। हूडा का शामिल होना वास्तव में राजस्थान क्रिकेट के लिए बहुत अच्छा है क्योंकि यह युवा खिलाड़ी घरेलू सर्किट में सबसे शानदार ऑलराउंडरों में से एक रहा है।

दीपक हूडा के इस निर्णय को लेकर पूर्व भारतीय खिलाड़ी इरफ़ान पठान का बयान भी आया। पठान ने इसे दुखद बताया। उन्होंने कहा कि जो खिलाड़ी भारतीय टीम में आने के लिए कतार में हो, उसे ऐसे कैसे जाने दिया गया। यह निराश करने वाली बात है।

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में दीपक हूडा और क्रुणाल पांड्या के बीच झगड़ा हुआ था। रिपोर्ट्स आई थी कि पांड्या ने हूडा को गालियाँ दी है लेकिन बड़ौदा क्रिकेट संघ ने अनुशासनात्मक कार्रवाई सिर्फ हूडा पर की। वह सीजन से बाहर कर दिए गए। इसके बाद इस ऑल राउंडर ने काफी सोच-विचार कर टीम छोड़ने का फैसला लिया।


Edited by निरंजन

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...