देवदत्त पडीक्कल ने रणजी ट्रॉफी में अपने जबरदस्त शतक को लेकर दिया बड़ा बयान

3rd Four-Day Tour Match: South Africa A v India A - Day 2
देवदत्त पडिक्कल बल्लेबाजी के दौरान

युवा बल्लेबाज देवदत्त पडीक्कल (Devdutt Padikkal) ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के मुकाबले में अपनी जबरदस्त शतकीय पारी को लेकर बड़ा बयान दिया है। पडीक्कल ने हुबली में पंजाब के खिलाफ मैच में बेहतरीन तरीके से शतक लगाया और अपने करियर की बेस्ट पारी खेली। इसको लेकर उन्होंने कहा कि उनके लिए रणजी ट्रॉफी का हर एक शतक काफी खास है और ये शतक भी उसका ही एक हिस्सा है।

देवदत्त पडीक्कल रणजी ट्रॉफी में कर्नाटक की टीम का हिस्सा हैं। उन्होंने इस सीजन के पहले ही मुकाबले में पंजाब के खिलाफ खेलते हुए बेहतरीन शतक लगा दिया। पडीक्कल ने 216 गेंद पर 24 चौके और 4 छक्के की मदद से 193 रनों की जबरदस्त पारी खेली और महज 7 रन से अपने शतक से चूक गए। ये देवदत्त पडीक्कल के फर्स्ट क्लास करियर की सबसे बेहतरीन पारी है।

मेरे लिए रणजी ट्रॉफी का हर एक शतक काफी खास है - देवदत्त पडीक्कल

देवदत्त पडीक्कल के लिए रणजी ट्रॉफी का पिछला सीजन उतना अच्छा नहीं रहा था। वो पिछले सीजन के पहले चार मैचों में नहीं खेल पाए थे। पडीक्कल के मुताबिक पिछला सीजन उनके लिए काफी निराशाजनक था। द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा,

वो पीरियड मेरे लिए काफी ज्यादा निराशाजनक था। उससे पहले तक मैं काफी अच्छी बैटिंग कर रहा था लेकिन उसके बाद ये सारी चीजें हो गईं और मैं खेल नहीं पाया। हालांकि इस साल मैं उसकी भरपाई करना चाहता हूं। मैं चाहता हूं कि अपनी टीम को मैच जिताने में मदद करूं। मेरे इस बेहतरीन शतक की खास बात ये रही कि इससे टीम काफी अच्छी पोजिशन में आ गई। मेरे लिए रणजी ट्रॉफी का हर एक शतक काफी खास है। हालांकि जब में 90s में पहुंचा तो थोड़ा नर्वस भी था। इसके बाद 190 के स्कोर के बाद भी नर्वस था लेकिन ये स्पेशल पारी थी।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता