Create
Notifications

ढाका प्रीमियर लीग में 2 बांग्लादेशी खिलाड़ियों पर लगा एक मैच का प्रतिबन्ध

सोहैल आब्दी

लेजेंड्स ऑफ रूपगंज के कप्तान मोशर्रफ होसैन और विकेटकीपर बल्लेबाज़ मोहम्मद मिथुन को ढाका प्रीमियर लीग में एक मैच का प्रतिबंध लगा दिया गया है। जिसका कारण अंपायर से की गई बदसलूकी थी, जो 30 मई को डीपीएल में चल रहे कालाबगान क्रीरा चक्र के विरुद्ध मैच के दौरान हुई थी। ये मामला तब हुआ जब उस मैच के दौरान रूपगंज के आठवें नंबर के बल्लेबाज़ अलाउद्दीन बाबू विकेटों के बीच भाग कर 2 रन पूरा कर लिया था और तभी मशरफ़े मुर्तज़ा ने ने ओवर थ्रो में चौका दे दीया। उसके बाद अंपायर असदुर रहमान और रफ़ीकुल इस्लाम जॉन ने 6 रनों की जगह सिर्फ 5 ही रन दिये और उनके साथी खिलाड़ी तैजुल इस्लाम को स्ट्राइक पर रहने को कहा, जैस्पर पर कप्तान ने आशंका जताई और अंपायर से भिड़ गए थे। मैच के खत्म होने के बाद कोच खालिद मशूद भी फील्ड अंपायरों से बहस करते नज़र आए जिसके एवज़ में उनपर भी 20,000 टका का जुर्माना लगाया गया। कोच के साथ-साथ मोशर्रफ, मिथुन और रूपगंज टीम के अधिकारी अहमद रूबेल पर भी ये जुर्माना लगा। मैच रेफ़री समिउर रहमान ने एक अख़बार को बताया “मैंने रूपगंज के खिलाड़ियों को उसी दिन प्रतिबंध लगने का पत्र भेज दिया था, पर उन्होंने उसे रिसीव नहीं किया। जिसके बाद मैंने अंपायर कमिटी को सूचना दे दी थी और उनसे कहा था कि इसपर जल्द से जल्द कडा एक्शन लें। इस सब पर मशूद ने कहा “हमें मैच के खत्म होने के बाद ना ही कोई प्रतिबंध वाला पत्र मिला और ना ही किसी फाइन की कोई खबर हम तक पहुंचाई गई।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...