एमएस धोनी कप्तान के तौर पर किसी भी मुकाबले के लिए तीन प्लान बना कर रखते थे : सुरेश रैना

Rahul

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी कप्तानी में भारत को सभी ख़िताब जितवाए हैं। उनकी कप्तानी में कई युवा खिलाड़ियों ने भारत के लिए शानदार प्रदर्शन कर अपने आपको एक अनुभवी ख़िलाड़ी के रूप में टीम में स्थापित किया, जिसमें रोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, विराट कोहली और सुरेश रैना जैसे दिग्गज ख़िलाड़ी शामिल हैं। एमएस धोनी की कप्तानी को लेकर टीम से बाहर चल रहे सुरेश रैना का कहना है कि धोनी के पास हमेशा एक कप्तान के रूप में मैच को लेकर बहुत सारे विकल्प रहते थे । भारतीय टीम के दिग्गज ख़िलाड़ी सुरेश रैना ने अपने साथी ख़िलाड़ी और भारत के कप्तान रहे एमएस धोनी की कप्तानी को लेकर 'ब्रेकफास्ट विद चैंपियंस' के एपिसोड के दौरान कहा कि वह मुकाबले को समझने में बहुत अच्छे हैं। उन्हें पता होता है कि मैच में क्या चल रहा है और आगे क्या होने वाला है। इसलिए वह किसी भी मुकाबले में प्लान 'ए' के साथ प्लान 'बी' और प्लान 'सी' भी रखते हैं। वह टीम के हर विभाग जिसमें बल्लेबाजी, गेंदबाजी, फील्डिंग और कप्तानी शामिल हों, उसके लिए हमेशा तीन विकल्प तैयार रखते हैं। वह मैच से एक रात पहले प्लान बनाते हैं और सुबह उन प्लान को अपने तरीके से टीम के साथ साझा करते हुए मैदान पर इस्तेमाल करते हैं। सुरेश रैना का धोनी के प्रति इस तरह की तारीफ़ करना लाजमी है क्योंकि वह धोनी की कप्तानी में न केवल भारत के लिए बल्कि आईपीएल में भी चेन्नई सुपरकिंग्स टीम के लिए 8 साल तक खेले हैं। रैना के अलावा भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने भी धोनी के प्रति इस प्रकार का सम्मान कई बार मैदान पर दर्शाया है। उन्होंने धोनी के 300वें अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान कहा था कि वह हमेशा हमारे कप्तान रहेंगे। मौजूदा टीम के तक़रीबन हर ख़िलाड़ी ने उनकी कप्तानी में भारत के लिए अपना पहला मैच खेला है, इसलिए आजीवन धोनी हमारे कप्तान रहेंगे।

Edited by Staff Editor