Create
Notifications

‘धोनी ने जितना मुझे समझा और भरोसा किया, ज़हीर नहीं समझ पाये’

सोहैल आब्दी

आईपीएल-9 को गुज़रे अभी ज़्यादा वक़्त नहीं हुआ है। इस खिताब को जीत कर सनराइजर्स हैदराबाद ने सबको चौंका कर भी रख दिया था। पर इस सीज़न में कई ऐसी चीज़ें हुई जिसमें कुछ युवा खिलाड़ियों के रूप में भारतीय टीम का भविष्य दिखा, पर कुछ ऐसे खिलाड़ी भी थे जिनके प्रदर्शन को देख कर ऐसा लगा कि उन्होंने खुद अपने ही पैर पर कुल्हाड़ी मार ली। ऐसे खिलाड़ियों की सूची में सबसे पहला नाम आता है दिल्ली डेयरडेविल्स के युवा खिलाड़ी पवन नेगी का। नीलामी में सबसे महंगे खिलाड़ियों की फ़हरिस्त में दूसरे स्थान पर आने वाले ऑलराउंडर पवन नेगी हैं। जिन्हें दिल्ली ने 8.50 करोड़ में खरीदा था, ना तो बल्ले से और ना ही गेंद से वह कुछ कमाल दिखा पाये। टीम को कई जगहों पर नेगी से बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद थी और तो और कई ऐसे मौके भी आए जहां नेगी के प्रदर्शन से टीम को जीत मिल सकती थी पर नेगी ने प्रदर्शन तो नहीं किया लेकिन टीम और समर्थकों को निराश ज़रूर कर दिया। नेगी को अब लोगों द्वारा एक ही बात कहकर याद किया जा रहा है कि ‘दाम बड़े और दर्शन छोटे’। नेगी के इस ख़राब प्रदर्शन पर जब उनसे पूछा गया तब उन्होंने कहा “ मुझे खुद कुछ नहीं पता, मैं हमेशा यही सोचता रहा कि मुझे और मौके क्यों नहीं दिये गए। और ना ही टीम मैनेजमेंट ने मुझे इस बारे में कुछ बताया। इन सब के अलावा नेगी ने ये भी बताया कि जब वो चेन्नई की टीम से जुड़े थे तब धोनी ने उनका काफी साथ दिया था पर दिल्ली की तरफ से ज़हीर ऐसा कुछ नहीं कर पाये”। पवन नेगी के इस बयान ने न सिर्फ़ सभी हैरान रह गए हैं, बल्कि उन्होंने सीधे तौर पर दिल्ली के कप्तान और टीम मैनेजमेंट पर ही सवाल खड़ा कर दिया है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...