दिनेश चंडीमल और कोच चंडिका हथरुसिंघा को दो टेस्ट और चार वनडे मुकाबलों के लिए किया गया सस्पेंड

आईसीसी ने श्रीलंका टीम के कप्तान दिनेश चंडीमल, कोच चंडिका हथरूसिंघा और टीम मैनेजर असंका गुरूसिंहा को वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट में खेल भावना के विपरीत कार्य के कारण कड़ी सजा सुनाई है। इन तीनों को दो टेस्ट और 4 एकदिवसीय मुकाबलों के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज से पहले चंडीमल, हथरूसिंघा और गुरूसिंहा ने इस बात का फैसला किया था कि वोे टेस्ट सीरीज में हिस्सा नहीं लेंगे। हालांकि यह तीनों अब दांबुला और पल्लेकेले में होने वाले एकदिवसीय मुकाबलों में भी टीम का हिस्सा नहीं बन पाएंगे। दिनेश चंडीमल और टीम के कोेच के ऊपर आईसीसी ने यह आरोप लगाए थे कि वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन मैदान पर उतरने से मना किया था, उस दिन 2 घंटे देरी से शुरू हुआ था। चंडीमल के ऊपर उस मैच में बॉल टैंपरिंग के आरोप लगा था, जिसके कारण उन्होंने मैदान में आने से मना कर दिया था। हालांकि उनके ऊपर आरोप सिद्ध होने के बाद चांडीमल के ऊपर एक मैच का प्रतिबंध भी लगा था। आईसीसी ने बयान जारी करते हुए कहा, " इन तीनों के ऊपर आठ सस्पेंशन पॉइंट है, जिसका मतलब है कि इन तीनों को दो टेस्ट और 4 एकदिवसीय/टी20 या फिर 8 एकदिवसीय/टी20 के लिए सस्पेंड किया जाता है। इसका मतलब है कि 29 जुलाई, 1 अगस्त, 5 और 8 अगस्त को होने वाले एकदिवसीय मुकाबलों में टीम के साथ नहीं होंगे।" आईसीसी ने इसके अलावा यह भी कहा कि हथरूसिंघे और गुरूसिंह के ऊपर पहली बार चार्ज लगे हैं, तो वहीं चंडीमल के ऊपर दूसरी बार यह चार्ज लगाए जा चुके हैं। चंडीमल को उसी मैच में आर्टिकल 2.2.9 का उल्लंघन करने के कारण 4 डीमेरिट पॉइंट दिए गए थे और अब उनके नाम कुल मिलाकर 10 डीमेरिट पॉइंट हो चुके हैं।

App download animated image Get the free App now