Create

Hindi Cricket News - वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में नंबर 5 पर बल्लेबाजी के लिए भेजे जाने से हैरान था : दिनेश कार्तिक

दिनेश कार्तिक
दिनेश कार्तिक
सावन गुप्ता

भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने वर्ल्ड कप 2019 सेमीफाइनल को लेकर बड़ा बयान दिया है। भारतीय टीम इस मुकाबले में न्यूजीलैंड से हारकर वर्ल्ड कप से बाहर हो गई थी और अब कार्तिक ने बल्लेबाजी क्रम को लेकर चौंकाने वाली बात कही है। उन्होंने कहा है कि जब मुझे बल्लेबाजी क्रम में नंबर 5 पर भेजा गया तो मैं काफी हैरान हुआ था।

क्रिकबज्ज के नए सेगमेंट 'इन कनवरसेशन' में हर्षा भोगले से खास बातचीत में दिनेश कार्तिक ने कहा कि इस फैसले से मैं काफी हैरान रह गया था। क्योंकि उन्होंने मुझे स्पष्ट रुप से कह रखा था कि मुझे 7 नंबर पर ही बल्लेबाजी के लिए भेजा जाएगा। लेकिन उन्होंने ये नहीं सोचा होगा कि भारतीय टीम की बल्लेबाजी इस तरह से लड़खड़ा जाएगी, क्योंकि हम टूर्नामेंट में शानदार बैटिंग कर रहे थे। रोहित शर्मा जबरदस्त फॉर्म में थे। इसके अलावा विराट कोहली और शिखर धवन भी जब तक थे, तब तक अच्छा खेल रहे थे। कार्तिक ने कहा कि टॉप ऑर्डर के लगातार बेहतरीन प्रदर्शन की वजह से मध्यक्रम के बल्लेबाजों को उतने मौके नहीं मिले थे। जब मिडिल ऑर्डर को ज्यादा मौके नहीं मिलते और अचानक से उन्हें इतने बड़े मैच में जाना पड़ता है तो काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

ये भी पढ़ें: आज ही के दिन आया था 'डेजर्ट स्टॉर्म', सचिन तेंदुलकर ने की थी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की धुनाई, मैच हारकर भी फाइनल में पहुंचा था भारत

कार्तिक ने आगे कहा कि धोनी जैसे बल्लेबाज को भी इस तरह की परिस्थितियों में दिक्कत आती है। भले ही उन्होंने 300 मैच खेले हों लेकिन वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच का अलग ही दबाव होता है। यही क्रिकेट की खूबसूरती है। अंदर ही अंदर सबको लग रहा था कि किसी ना किसी मैच में बल्लेबाजी क्रम लड़खड़ा सकता है और सेमीफाइनल मुकाबले में वही हुआ। मुझे उस वक्त लग नहीं रहा था कि विकेट इतने जल्दी-जल्दी गिर जाएंगे। अचानक से के एल राहुल आउट हुए और मुझे मैदान में जाना पड़ा। पूरे टूर्नामेंट के दौरान यही था कि मैं धोनी के बाद नंबर 7 पर बल्लेबाजी करुंगा। इसके अलावा नंबर 5 पर मैंने काफी समय से बल्लेबाजी नहीं की थी। जब मुझे मौका मिला तो मेरा काम था विकेट बचाकर रखना। मैंने कोशिश भी की लेकिन जिमी नीशम ने जबरदस्त कैच पकड़कर मुझे आउट कर दिया। इससे प्रतीत होता है कि वो आपका दिन नहीं था।


Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...