यशस्वी जायसवाल ने दोहरा शतक लगाकर टीम को दिलाई जबरदस्त जीत, विवादों में भी फंसे

Nitesh
यशस्वी जायसवाल ने जबरदस्त दोहरा शतक लगाया
यशस्वी जायसवाल ने जबरदस्त दोहरा शतक लगाया

वेस्ट जोन ने दिलीप ट्रॉफी 2022 का फाइनल मुकाबला अपने नाम कर लिया है। कोएंबटूर में खेले गए फाइनल मैच में वेस्ट जोन ने साउथ जोन को 294 रनों के विशाल अंतर से हराया। वेस्ट जोन ने साउथ जोन के सामने 529 रनों का टार्गेट रखा लेकिन जवाब में टीम 234 रन ही बना पाई और साउथ जोन को एक बड़ी हार का सामना करना पड़ा। यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) को दूसरी पारी में उनके जबरदस्त दोहरे शतक के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

वेस्ट जोन ने अपनी पहली पारी में 270 रन बनाए थे। इसके जवाब में साउथ जोन की टीम ने 327 रन बनाकर एक अच्छी बढ़त हासिल कर ली थी। हालांकि दूसरी पारी में वेस्ट जोन ने जबरदस्त बल्लेबाजी की और 585 रन बना दिए। युवा बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल ने जबरदस्त दोहरा शतक लगाया। उन्होंने 323 गेंद पर 265 रनों की पारी खेली थी। इसी वजह से वेस्ट जोन की टीम 4 विकेट पर 585 रन बनाने में कामयाब रही। इसके अलावा सरफराज खान ने भी 127* रनों की बेहतरीन पारी खेली।

टार्गेट का पीछा करते हुए साउथ जोन की टीम लगातार अपने विकेट गंवाती रही। टीम के लिए सलामी बल्लेबाज रोहन कुन्नुमल ने सबसे ज्यादा 93 रन बनाए। वहीं रवि तेजा ने भी 53 रनों की पारी खेली। जबकि मयंक अग्रवाल, मनीष पांडे और हनुमा विहारी जैसे बल्लेबाज फ्लॉप रहे।

यशस्वी जायसवाल को कप्तान अजिंक्य रहाणे ने किया मैदान से बाहर

इस मैच के दौरान एक विवाद भी देखने को मिला। वेस्ट जोन के कप्तान अजिंक्य रहाणे टीम के साथी खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल की एक हरकत से इतना गुस्सा हो गए कि उन्हें मैदान से बाहर भेज दिया। दरअसल साउथ जोन की टीम जब बल्लेबाजी कर रही थी तो इसी दौरान उनके बल्लेबाज रवि तेजा और यशस्वी जायसवाल के बीच कुछ कहासुनी हुई। यशस्वी जायसवाल लगातार बल्लेबाजों को स्लेज कर रहे थे और इसके लिए उन्हें अंपायरों ने वॉर्निंग भी दी।

जब अंपायरों के मना करने के बावजूद यशस्वी जायसवाल नहीं रुके तब अजिंक्य रहाणे ने उन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन इसके बावजूद यशस्वी नहीं माने। इससे गुस्सा होकर रहाणे ने उन्हें मैदान से बाहर भेज दिया।

Quick Links

Edited by Nitesh
App download animated image Get the free App now