Create

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी वापसी को लेकर ड्वेन ब्रावो का बड़ा बयान

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के धाकड़ ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो काफी समय से कैरेबियाई टीम से बाहर चल रहे हैं। लेकिन 34 साल की उम्र में भी वो दुनिया भर की टी20 लीगों में काफी बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं और मैच विनर साबित हो रहे हैं। हालांकि वेस्टइंडीज टीम में अपनी वापसी को लेकर आश्वस्त नहीं हैं, उनका मानना है कि 34 साल की उम्र में राष्ट्रीय टीम में वापसी का कोई तुक नहीं बनता है। टी10 क्रिकेट लीग के मैच के दौरान ब्रावो ने कहा कि मुझे वेस्टइंडीज टीम से तब बाहर कर दिया गया था जब मैं फिट था। अब मैं 34 साल का हो चुका हूं ऐसे में वापसी का कोई मतलब ही नहीं बनता। मैं चाहता हूं कि मेरे अंदर जितना क्रिकेट बचा है अपने फैंस की खातिर उतना मैं खेलूं। ब्रावो ने कहा कि मैं दुनिया भर में होने वाले इस तरह की टी20 प्रतियोगिताओं में खेलना चाहता हूं। मैं जितना ज्यादा खेलुंगा उतना ही खुश रहुंगा। गौरतलब है इंडियन प्रीमियर लीग में ब्रावो गुजरात लायंस की टीम का हिस्सा थे लेकिन चोट की वजह से वो 2017 के सीजन में हिस्सा नहीं ले पाए थे। हाल ही में बांग्लादेश प्रीमियर लीग से उन्होंने वापसी की और उनकी टीम ने सेमीफाइनल तक का सफर भी तय किया। ब्रावो फिर से क्रिकेट में वापसी को लेकर काफी खुश हैं।

ब्रावो ने वेस्टइंडीज के लिए अपना आखिरी टी20 मैच साल 2016 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला था, वहीं आखिरी एकदिवसीय मैच 2014 में भारत के खिलाफ खेला था। वहीं उन्होंने पिछले सात साल से एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला है। इस वक्त वो दुबई में हो रहे टी10 क्रिकेट लीग में खेल रहे हैं। टी10 लीग में ब्रावो मराठा अरेबियन्स की टीम का हिस्सा हैं जिसके कप्तान भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग हैं। ब्रावो को कुमार संगकारा की जगह मराठा अरेबियन्स की टीम में शामिल किया गया था। मराठा अरेबियन्स की टीम ने कल खेले गए मुकाबले में टीम श्रीलंका को हराया, जिसमें ब्रावो ने काफी अच्छी गेंदबाजी की थी।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment