ENGvIND: टी-20 सीरीज में भारतीय खिलाड़ियों का रिपोर्ट कार्ड

टीम इंडिया के लिए इंग्लैंड दौरे की शुरुआत शानदार रही। भारत ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टी-20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज़ में 2-1 से जीत हासिल की। भारतीय टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का संतुलन था और इन सभी ने मिलकर भारत को यादगार जीत दिलाई। इस सीरीज़ में ज़्यादातर भारतीय खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन कुछ का खेल उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा। हम यहां भारतीय खिलाड़ियों के इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टी-20 सीरीज़ में प्रदर्शन को लेकर चर्चा कर रहे हैं।

#1 रोहित शर्मा (मैच: 3 रन: 137)- 9/10

टी-20 सीरीज़ में रोहित शर्मा टीम इंडिया के लिए सुपरहीरो बनकर उतरे थे। इस सीरीज़ में उन्होंने अपने करियर का तीसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय शतक लगाया था। रोहित ने तीसरे टी20 में भारत को 198 रन के मुश्किल लक्ष्य को पार करने में मदद की थी। उन्होंने इस सीरीज़ के 3 मैच में 144.21 के स्ट्राइक रेट से 137 रन बनाए। यही वजह है कि उन्हें ‘मैन ऑफ़ द सीरीज़’ के अवॉर्ड से नवाज़ा गया।

#2 शिखर धवन (मैच: 3 रन: 19)- 2.5/10

शिखर धवन टी-20 सीरीज़ में उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पाए। पिछले इंग्लैंड दौरे पर उनका फ़ॉम कहीं बेहतर था और ऐसा लग रहा था कि वो इस बार भी धमाल मचाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। टी-20 सीरीज़ के तीनों मैच में वो इंग्लैंड के गेंदबाज़ों का आसानी से शिकार बन गए। ये सीरीज़ धवन के लिए काफ़ी निराशाजनक रही।

#3 केएल राहुल (पारी: 3 रन: 126)- 9/10

केएल राहुल टीम इंडिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज़ों में से एक हैं, उन्होंने इस टी-20 सीरीज़ के पहले मैच में अंग्रेजों के छक्के छुड़ा दिए थे। वो अक्सर मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाज़ी करते हैं और टीम इंडिया के स्कोर में हमेशा इज़ाफ़ा करते रहते हैं। इस सीरीज़ के पहले मैच में राहुल ने शानदार शतक लगाया था। ये टी-20 अंतरराष्ट्रीय में उनका दूसरा शतक था।

#4 विराट कोहली (पारी: 3 रन: 110)- 8/10

इस टी-20 सीरीज़ के पहले मैच में वो एक सहयोगी बल्लेबाज़ की भूमिका निभा रहे थे, लेकिन बाक़ी 2 मैचों में कोहली का योगदान अहम रहा। टीम इंडिया के कप्तान ने अपनी ज़िम्मेदारी बख़ूबी निभाई। सीरीज़ के तीसरे और आख़िरी मैच में उन्होंने रोहित शर्मा के साथ मिलकर टीम इंडिया को जीत दिलाई।

#5 सुरेश रैना (पारी: 1 रन: 27)- 6.5/10

टीम इंडिया में टॉप ऑर्डर पूरी तरह से भरा हुआ है ऐसे में सुरेश रैना के लिए मिडिल ऑर्डर में ही जगह बन रही थी। उन्हें सिर्फ़ एक मैच में बल्लेबाज़ी करने का मौका मिला। टी-20 सीरीज़ के दूसरे मैच में उन्होंने 20 गेंदों में 27 रनों की उपयोगी पारी खेली, लेकिन टीम इंडिया को जीत दिलाने में नाकाम रहे।

#6 एमएस धोनी (पारी: 1 रन: 32 | मैच: 3 कैच: 5 स्टंपिंग: 2)- 8/10

पूरी टी-20 सीरीज़ में धोनी को सिर्फ़ एक बार बल्लेबाज़ी करने का मौका मिला, जिसमें उन्होंने 32 रन बनाए। हांलाकि स्टंप के पीछे उन्होने कमाल का खेल दिखाया। इस सीरीज़ में उन्होंने बतौर विकेटकीपर 7 शिकार किए। उन्होंने 2 बल्लेबाज़ों को स्टंपिग के ज़रिए आउट किया है और एक ही मैच में 5 कैच भी लपके।

#7 हार्दिक पांड्या (पारी: 2 रन: 45 | मैच: 3 विकेट: 6)- 8.5/10

हार्दिक पांड्या को इस टी-20 सीरीज़ में बल्ले से कमाल दिखाने का ज़्यादा मौके नहीं मिला। हांलाकि उन्होंने तीनों मैचों में पूरे 4 ओवर फेंके और कोहली की उम्मीदों पर खरे उतरे। सीरीज़ के तीसरे मैच में उन्होंने 38 रन देकर 4 विकेट हासिल किए। ये उनके टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर की सबसे बेहतरीन बॉलिंग फ़िगर है। इसी सीरीज़ के तीसरे मैच में पांड्या ने 14 गेंदों में 33 रन की पारी खेली थी और टीम इंडिया को जीत दिलाने में मदद की थी।

#8 भुवनेश्वर कुमार (मैच: 2 विकेट:1)- 4/10

इस सीरीज़ से पहले उम्मीद थी कि भुवनेश्वर कुमार इंग्लैंड में शानदार गेंदबाज़ी करेंगे और अपने स्विंग के जाल में इंग्लैंड टीम को फंसा लेंगे, लेकिन ऐसा हो न सका। इंग्लैंड की पिच बल्लेबाज़ों के लिए मददगार साबित हुई और भुवी कोई कमाल नहीं दिखा पाए। पहले मैच के दौरान 4 ओवर में उन्होंने 45 रन लुटाए थे। दूसरे मैच में उन्होंने थोड़ी बेहतर गेंदबाज़ी की, लेकिन उन्हें महज़ 1 विकेट मिला। सीरीज के तीसरे मैच में भुवनेश्वर चोट के कारण नहीं खेल पाए थे।

#9 उमेश यादव (मैच: 3 विकेट: 5)- 7.5/10

उमेश यादव ने काफ़ी लंबे अर्से के बाद टीम इंडिया में वापसी की है, उनके लिए ये टी-20 सीरीज अच्छी रही। वो इन तीनों मैचों में विपक्षी बल्लेबाज़ों पर काबू पाने में कामयाब रहे और कुल 5 विकेट हासिल किए। उन्होंने टीम में जसप्रीत बुमराह की कमी महसूस नहीं होने दी।

#10 युज़वेंद्र चहल (मैच: 3 विकेट: 1)- 6.5/10

युज़वेंद्र चहल ने इस टी-20 सीरीज़ के 3 मैच में महज़ 1 विकेट लिया। ये सीरीज़ उनके लिए बेहद निराशाजनक रही। चहल अपने दक्षिण अफ़्रीकी दौरे की कामयाबी को दोहराने में नाकाम रहे। ऐसा माना जा रहा था कि चहल इस सीरीज़ में तरुप का इक्का साबित होंगे क्योंकि इंग्लैंड के खिलाड़ी फिरकी गेंदबाज़ों को खेलने को लेकर इतने सहज नहीं हैं। हांलाकि चहल ने इस सीरीज़ में ज़्यादा रन नहीं लुटाए, लेकिन ज़्यादा विकेट भी नहीं निकाल पाए।

#11 कुलदीप यादव (मैच: 2 विकेट: 5)- 8.5/10

कुलदीप यादव इस टी-20 सीरीज़ में इंग्लैंड टीम के लिए काल बनकर सामने आए थे। विपक्षी बल्लेबाज़ों को ये अंदाज़ा लगाना मुश्किल हो रहा था कि कुलदीप की गेंद को किस तरीके से खेला जाए। कुलदीप ने पहले मैच के 4 ओवर में 24 रन देकर 5 विकेट हासिल किए थे। हांलाकि वो दूसरे मैच में अपनी कामयाबी को दोहरा नहीं पाए थे।

#12 सिद्धार्थ कौल (मैच: 1 विकेट: 2)- 8/10

सिद्धार्थ कौल ने हाल में ही आयरलैंड के ख़िलाफ़ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था, लेकिन उनकी असली परीक्षा इंग्लैंड के ख़िलाफ़ होना थी। उन्हें सीरीज़ के आख़िरी मैच में खेलने का मौका मिला। इस मैच से भुवनेश्वर कुमार और कुलदीप यादव नदारद थे, ऐसे में उम्मीदों का बोझ सिद्धार्थ कौल पर भी था। इस मैच में कौल ने 4 ओवर में 35 रन देकर 2 विकेट हासिल किए थे, जिसमें जोस बटलर का विकेट भी शामिल था।

#13 दीपर चाहर (मैच: 1 विकेट: 1)- 5/10

टीम इंडिया में दीपक चाहर को जसप्रीत बुमराह की जगह शामिल किया गया था, वो तीसरे मैच में मैदान पर गेंदबाज़ी करने उतरे थे। चाहर ने 4 ओवर में 43 रन देकर 1 विकेट हासिल किया। उनका डेब्यू मैच उतना बेहतर नहीं रहा जितना कि वो चाहते थे। हांलाकि चाहर ने जेसन रॉय का अहम विकेट लिया।

लेखक- कोव्वली तेजा

अनुवादक- शारिक़ुल होदा

App download animated image Get the free App now