ENG v PAK पहला टेस्ट : मिस्बाह ने पहले दिन तोड़े कई रिकॉर्ड्स

इसमें कोई संदेह नहीं कि पाकिस्तान के कप्तान मिस्बाह उल हक को इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के पहले दिन का सबसे ज्यादा इंतेजार था। इंग्लैंड में अपना पहला टेस्ट खेल रहे 42 वर्षीय मिस्बाह ने शानदार पारी खेलकर लॉर्ड्स ऑनर्स बोर्ड में अपना नाम दर्ज करा लिया है। एक बार फिर मिस्बाह से पाक को संकट की स्थिति से उबर। वह तब बल्लेबाजी करने उतरे जब टीम 77 रन पर तीन विकेट गंवा चुकी थी। उन्होंने असद शफीक के साथ मिलकर इंग्लैंड के गेंदबाजों की जमकर खबर ली और स्टंप्स तक शतक जमाकर नाबाद रहे। शतक पूरा करने के बाद मिस्बाह ने 10 पुश-अप्स लगाकर अनोखे अंदाज में जश्न मनाया। दरअसल, मिस्बाह ने अब्बोत्ताबाद में पाकिस्तान आर्मी से ट्रेनिंग हासिल की थी और उन्होंने जवानों से वादा किया था कि शतक पूरा करने के बाद वह पुश-अप्स जरुर लगाएंगे। मिस्बाह ने शतकीय पारी खेलने के दौरान कई रिकार्ड्स तोड़े और अपने नाम किए। आइए नजर डालते हैं उन रिकार्ड्स पर :

  • मिंवाली के मिस्बाह ने 42 वर्ष 46 दिन की उम्र में टेस्ट शतक जमाया, वह टेस्ट शतक बनाने वाले सबसे उम्रदराज बल्लेबाज बन गए हैं। मिस्बाह ने ऑस्ट्रेलिया के बॉब सिम्प्सन के रिकॉर्ड को तोड़ा, जिन्होंने 1977-78 में भारत के खिलाफ एडिलेड में 41 वर्ष 359 दिन में शतक जमाया था।
  • इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट में 50 से अधिक रन बनाने के मामले में मिस्बाह से पहले एक ही उम्रदराज बल्लेबाज थे। वारेन बार्डस्ले ने 1926 में इसी मैदान पर 193* बनाए थे।
  • असद शफीक के साथ पांचवे विकेट के लिए मिस्बाह की 148 रन की साझेदारी के अलावा सिर्फ दो बार पाकिस्तान की टीम लॉर्ड्स पर पांचवे विकेट के लिए इससे बड़ी साझेदारी कर सकी है।
  • इंग्लैंड में अपने करियर की पहली पारी खेलते समय अर्धशतक लगाने वाले मिस्बाह पाकिस्तान के चौथे कप्तान बने। उनसे पहले हनीफ मोहम्मद, जावेद मियांदाद और इंजमाम उल हक ही इस उपलब्धि को हासिल कर पाए हैं।
  • 40 से अधिक उम्र के बाद सिर्फ 4 बल्लेबाज ही 1,000 से अधिक टेस्ट रन बना सके हैं। मिस्बाह को टॉम ग्रावेनी को पीछे छोड़कर तीसरे स्थान पर पहुंचने के लिए सिर्फ 19 रन की दरकार है।
  • दाएं हाथ के बल्लेबाज टेस्ट क्रिकेट में जैक होब्स, पैट्सी हेंड्रेन, वारेन बार्डस्ले, डेव नौर्स और फ्रैंक वूली के बाद शतक जमाने वाले छठें सबसे उम्रदराज बल्लेबाज बने।
  • ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान पर मिस्बाह शतक लगाने वाले सातवें पाकिस्तानी बल्लेबाज बने। उनसे पहले जावेद बुर्की, नसीम-उल-घनी, हनीफ मोहम्मद, मोहसिन खान, इंजमाम-उल-हक, मोहम्मद यूसुफ़ भी ऐसा कर चुके हैं।
  • टेस्ट में मिस्बाह और असद के बीच पांचवें विकेट के लिए सातवीं बार शतकीय साझेदारी हुई जो विश्व में किसी भी पांचवे विकेट के लिए जोड़ी द्वारा सर्वाधिक है। पहले यह रिकॉर्ड रिकी पोंटिंग और स्टीव वॉ के नाम था जिनके बीच 6 शतकीय साझेदारी थी।
  • मिस्बाह के नेतृत्व में पाकिस्तान ने लगातार 7 बार टॉस जीता जो टेस्ट इतिहास में सर्वाधिक है।
  • खेल के पारंपरिक प्रारूप में 60 साल के बाद 42 वर्ष की उम्र में बल्लेबाज ने शतक जमाया।
  • मिस्बाह लगातार 69 महीनों से पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान बने हुए है, जो पाकिस्तान के टेस्ट इतिहास का सबसे लंबा समय है। इससे पहले पाकिस्तान टीम के पहले टेस्ट कप्तान अब्दुल हफीज करदार 66 महीनों तक कप्तान बने हुए थे।
  • पिछले इंग्लैंड दौरे पर पाक बल्लेबाज का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 92 रन था। मिस्बाह ने 110 रन नाबाद बनाते हुए अजहर अली के इस प्रयास को पीछे छोड़ा।
App download animated image Get the free App now