‘अंतर्राष्ट्रीय टीम में मेरी सफल वापसी का श्रेय मेडिकल टीम को जाता है’

इंग्लैंड दौरे पर गई पाकिस्तान टीम बेहतरीन प्रदर्शन करती नज़र आ रही है। पकिस्तान को इंग्लैंड के विरुद्ध इस दौरे पर चार टेस्ट, पांच वनडे और एक टी20 मैच की सीरीज़ खेलनी थी। जिसमें से चार टेस्ट मैच के ख़त्म होने के बाद सीरीज़ 2-2 से बराबर रही। इस सीरीज का पहला और चौथा मैच मेहमान पकिस्तान टीम ने जीता था जबकि दूसरा और तीसरा मैच मेज़बान इंग्लैंड की झोली में गिरा और सीरीज 2-2 से बराबर रही। टेस्ट सीरीज के बाद अब बारी थी इन दोनों टीमों के वनडे सीरीज की जिसमें दोनों ही टीमें जीतकर सीरीज पर कब्ज़ा करना चाहेगी। वनडे सीरीज में खेल की जंग से पहले बातों की जंग शुरू हो गई थी और टीम के पूर्व खिलाड़ी अपनी बातों से दूसरी टीम को बैकफुट पर भेजने की तैयारी कर रहे हैं।कॉलिंगवुड के मुताबिक वनडे सीरीज के लिए टीम में शामिल किये गए तेज़ गेंदबाज़ मार्क वुड पाकिस्तानी बल्लेबाजों के लिए काफी कड़ी चुनौती साबित हो सकते हैं। पूर्व इंग्लिश कप्तान ने ये भी कहा है कि मार्क वुड सफ़ेद गेंद से पकिस्तान टीम के बल्लेबाजों के लिए काफी मुश्किल पैदा कर सकते हैं। कॉलिंगवुड नैटवेस्ट टी20 ब्लास्ट की एक टीम डरहम के कप्तान हैं और मार्क वुड उन्हीं की टीम के वो गेंदबाज़ हैं जिनके शानदार प्रदर्शन के दम पर टीम फाइनल में पहुँचने में कामयाब हो पाई थी। 26 वर्षीय ये गेंदबाज़ सेमीफाइनल में चार विकेट लेकर मैन ऑफ़ द मैच भी रहे थे। 26 वर्षीय वुड टीम में जगह पाने पर खुश हैं लेकिन पकिस्तान के विरुद्ध पहले वनडे मैच में वुड कुछ ख़ास प्रदर्शन नहीं कर पाए। हालांकि अपनी गेंद की तेज़ी से उन्होंने सबको चौंकाया ज़रूर है जब उन्होंने 92.7 माइल्स प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंद फेकी। वुड हाल में ही अपनी एड़ी के दो ऑपरेशन से उभर कर वापस आये हैं। ऑपरेशन के बाद वुड ने घरेलु क्रिकेट में काफी बेहतरीन प्रदर्शन किया है जिसकी वजह से वो नेश्नल टीम में जगह बनाने में कामयाब हो पाए। “मैं पिछले कुछ समय से काफी परेशान था और अपने प्रदर्शन के बारे में लगातार सोच विचार कर रहा था, डरहम की तरफ से खेलते हुए बेहतरीन प्रदर्शन करने से मुझे आत्मविश्वास मिला है। टीम के कोच जॉन लुईस और मेडिकल टीम ने मुझे काफी समर्थन दिया और मुझमें आत्मविश्वास जगाया। इसलिए मैं अपने बेहतर प्रदर्शन का श्रेय मेडिकल टीम को भी देना चाहूँगा”: मार्क वुड पहले वनडे में हार के बाद पकिस्तान टीम इंग्लैंड के खिलाफ 27 अगस्त को जीत के साथ वापसी करने उतरेगी।

Edited by Staff Editor