Create

7 रनों पर 6 विकेट गंवाने के बावजूद टीम ने जीत लिया मैच, एलिस्टेयर कुक की टीम को मिली शर्मनाक हार

7 रन पर 6 विकेट गिरने के बावजूद जीता मैच
7 रन पर 6 विकेट गिरने के बावजूद जीता मैच
reaction-emoji
Nitesh

इंग्लैंड में इन दिनों काउंटी डिवीजन 1 के मुकाबले खेले जा रहे हैं। इस दौरान एसेक्स और लंकाशायर के बीच खेले गए मुकाबले की चर्चा हर तरफ हो रही है। इसकी वजह ये है कि अपनी दूसरी पारी में सिर्फ सात रनों पर छह विकेट गंवाने के बावजूद लंकाशायर ने ये मुकाबला 38 रनों से अपने नाम कर लिया।

लंकाशायर ने अपनी पहली पारी में सिर्फ 131 रन बनाए। टीम की तरफ से कोई भी बल्लेबाज टिककर लंबी पारी नहीं खेल पाया। यहां तक कि कोई भी प्लेयर 30 रनों का स्कोर तक नहीं बना पाया और इसी वजह से टीम केवल 131 रन ही बना पाई। एसेक्स की तरफ से सिमन हार्मर ने 5 विकेट लिए।

जवाब में एसेक्स की टीम अपनी पहली पारी में सिर्फ 107 रनों पर ही सिमट गई। एलिस्टेयर कुक ने टीम के लिए सबसे ज्यादा 40 रन बनाए लेकिन उन्हें किसी और बल्लेबाज का साथ नहीं मिला। इस तरह से लंकाशायर ने 24 रनों की छोटी सी बढ़त हासिल कर ली।

हालांकि लंकाशायर की दूसरी पारी में कुछ ऐसा हुआ जिसे देखकर हर कोई दंग रह गया। टीम ने सिर्फ 6 रन तक ही अपने 7 विकेट गंवा दिए। हालांकि इसके बावजूद टीम ने गिरते-पड़ते किसी तरह 73 रन बना लिए। एसेक्स की तरफ से शेन स्नैटर ने 6 विकेट लिए।

98 रनों का पीछा करते हुए एसेक्स की टीम 59 रन पर हुई ढेर

एसेक्स को जीत हासिल करने के लिए सिर्फ 98 रनों का टार्गेट मिला और ऐसा लगा कि वो आसानी से मुकाबला अपने नाम कर लेंगे। हालांकि ऐसा नहीं हुआ। लंकाशायर के गेंदबाजों ने दूसरी पारी में भी जबरदस्त गेंदबाजी की और एसेक्स को सिर्फ 59 रनों पर ही ढेर कर दिया। एलिस्टेयर कुक टीम की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। उन्होंने 14 रन बनाए। टीम के 9 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं हासिल कर पाए। लंकाशायर की तरफ से जॉर्ज बाल्डरसन ने 5 और विल विलियम्स ने 4 विकेट चटकाए।

आपको बता दें कि यह मैच मात्र 750 गेंदों में खत्म हो गया और 2006 के बाद फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सबसे जल्दी खत्म होने वाला मुकाबला बन गया जिसमें सभी 40 विकेट गिरी हो।


Edited by Nitesh
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...