Create

भारतीय चयन समिति का चयन करेंगे पूर्व भारतीय ख़िलाड़ी: प्रबंधक समिति

Rahul

भारतीय क्रिकेट में सुधार लाने के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रबंधक समिति ने हाल ही में भारतीय क्रिकेट के भविष्य को लेकर अहम फैसला लेने का निर्णय लिया है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड के पदाधिकारियों को टीम सेलेक्शन से दूर रखते हुए, प्रबंधक समिति ने पूर्व खिलाड़ियों के ऊपर इस जिम्मेदारी को सौंपने का सुझाव सुप्रीम कोर्ट के सामने रखा है। यह समिति भी सलाहकार समिति के अनुसार ही तय की जाएगी, जिसमें पूर्व दिग्गज ख़िलाड़ी भारतीय चयन समिति का चयन कर सकेंगे। बीसीसीआई के आधिकारिक वेबसाईट पर जारी हुए एक बयान में प्रबंधक समिति ने हाल ही में हुई एक बैठक के दौरान सुप्रीम कोर्ट को यह सुझाव देते हुए कहा कि चयनकर्ताओं का चयन हर दो साल बाद किया जाना चाहिए और चयनकर्ताओं के साथ टीम के कोच का चयन भी किसी राजनीती कारणों में न आये, तो यह भारतीय क्रिकेट के भविष्य के लिए बेहतरीन होगा। इसलिए पूर्व खिलाड़ियों की एक समिति बना कर इन सभी विचारों को अमल में लाया जाना चाहिए। प्रबंधक समिति ने इस सुझाव से पहले सलाहकार समिति का भी गठन किया था, जहाँ भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज ख़िलाड़ी सचिन तेंदुलकर वीवीएस लक्ष्मण और सौरव गांगुली भारतीय टीम के मुख्य कोच का चयन करते हैं। सलाहकार समिति ने साल 2016 में अनिल कुंबले को भारत का कोच बनाया, तो 2017 में रवि शास्त्री को कोच के रूप में चुना था। प्रबंधक समिति द्वारा दिए गए सुप्रीम कोर्ट को इस सुझाव से भारतीय क्रिकेट में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता हैं। यह सुझाव भारतीय क्रिकेट के भविष्य के लिए अहम माना गया है। इस सुझाव से चयन समिति के चयन में भी किसी भी प्रकार की राजनीती होने का डर नहीं होगा और यह सब प्रबंधक समिति के देखरेख में किया जायेगा।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment