वीडियो : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गेंद से छेड़छाड़ करते पकड़ाए फाफ डू प्लेसी

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम का ऑस्ट्रेलिया दौरा अब तक शानदार बीता है। प्रोटीज टीम ने होबार्ट में दूसरा टेस्ट जीतकर तीन मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम की। दक्षिण अफ्रीका की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में यह लगातार तीसरी टेस्ट सीरीज जीत रही। हालांकि, गर्व के पलों के बीच दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डू प्लेसी ने गलत कारणों की वजह से ऑस्ट्रेलिया के टेबलायड में सुर्खियां बंटोरी हैं। मीडिया ने दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी का वीडियो जारी किया है, जिसमें कप्तान गेंद को चमकाते हुए दिख रहे हैं और उन्होंने जो थूक लगाया है वो मुंह में जमा मिंट का है। यह घटना तब हुई जब कागिसो रबाडा पारी का 54वां ओवर दाल रहे थे और उस समय मेजबान टीम का स्कोर 150/5 था। फुटेज में दिखा कि प्लेसी ने जबान में जमी सफेद परत को उंगली से निकाला और कूकाबुरा गेंद पर मल दिया, उन्होंने ऐसा कम से कम दो से तीन बार किया। यह पाया गया कि डू प्लेसी के ऐसा करने के तुरंत बाद नतीजा देखने को मिला। ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर बल्लेबाज पीटर नेविल अगली ही गेंद पर आउट हो गए। शॉर्ट गेंद पर नेविल ने गली में मौजूद फील्डर के हाथों में आसान कैच थमा दिया। इसी ओवर में जो मेनी को LBW आउट दिया गया, वो लेग स्टंप की तरफ आ रही नीची फुलटॉस गेंद पर बल्ला अड़ाने से चूक गए। वीडियो में स्पष्ट दिख रहा है कि डू प्लेसी गेंद को चमका रहे हैं तब क्या कर रहे हैं :

youtube-cover

डू प्लेसी के एक्शन को खेल के नियम के उल्लंघन का दोषी माना जा सकता है। एमसीसी के क्रिकेट कानून के 42।3 नियम में बताया गया है कि कोई फील्डर अगर गेंद को चमकाए तो वो किसी भी पदार्थ को नहीं लगा सकता। ऐसे में डू प्लेसी के मुंह में मिंट थी और गेंद को चमकते वक्त उन्होंने इसका इस्तमाल किया, जो कृतिम पदार्थ कहलाएगा। पूर्व दक्षिण अफ्रीकी विकेटकीपर बल्लेबाज मार्क बाउचर ने इस फुटेज को दिखाने के लिए ऑस्ट्रेलियाई मीडिया का मजाक ट्विटर पर बनाया है। उन्होंने लिखा 'हताश समय = हताश उपाय! दयनीय! यह पूरी तरह गलत है!' यह पहला मौका नहीं है जब दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ने दौरे पर किसी गलत कारण से सुर्खियां बंटोरी हो। डू प्लेसी को पहले टेस्ट में जानबूझकर गेंद को मैदान पर बाउंस कराकर ख़राब करने के लिए चेतावनी दी गई थी। 2013 में पाकिस्तान के खिलाफ दूसरे टेस्ट में उन्होंने पेंट की ज़िप पर गेंद को रगड़ा था, जिसके लिए उनकी मैच फीस का 50 प्रतिशत हिस्सा काट लिया गया था। दक्षिण अफ्रीका ने अगले दिन यह मुकाबला एक पारी और 92 रन से जीता था।

Edited by Staff Editor