Create
Notifications

फेनी डीविलियर्स की सजगता से पकड़ी गई ऑस्ट्रेलियाई टीम की बॉल टेंपरिंग

सावन गुप्ता

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दौरान ऑस्ट्रेलियाई टीम द्वारा किए गए बॉल टेंपरिंग (गेंद से छेड़छाड़) को लेकर रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। अब दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज फेनी डीविलियर्स ने दावा किया है कि उन्होंने ही कैमरामैन को निर्देश दिया था कि वो हर एक ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी पर कड़ी नजर रखें। डीविलियर्स मैच के दौरान कमेंट्री कर रहे थे। सोमवार को आरएसएन रेडियो से बातचीत में फेनी डीविलियर्स ने कहा कि सामान्य तौर पर गेंद 30 ओवर के बाद ही रिवर्स स्विंग होती है लेकिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज इसे 26वें, 27वें और 28वें ओवर से ही स्विंग करा रहे थे। मैंने सोचा कि अगर वे ऐसा कर पा रहे हैं तो जरुर इसमें कुछ गड़बड़ है। डीविलियर्स ने कहा हमने कैमरामैन से कहा कि वो ऑस्ट्रेलियाई फील्डरों पर कड़ी नजर बनाकर रखें, क्योंकि वे कुछ तो अलग कर रहे थे। उन्होंने लगभग डेढ़ घंटे तक चौंकन्ने होकर सभी खिलाड़ियों पर नजर बनाए रखी उसके बाद कुछ गड़बड़ देखकर कैमरामैन ने कैमरन बैनक्रॉफ्ट को फॉलो करना शुरु किया। आखिर में बैनक्रॉफ्ट गेंद से छेड़छाड़ करते हुए पाए गए। डीविलियर्स ने कहा कि मुझे इसलिए शक हुआ क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी 30 ओवर से पहले ही स्विंग करा रहे थे इसका मतलब वे कुछ अलग कर रहे थे। गौरतलब है दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरन बैनक्रॉफ्ट्र गेंद से छेड़छाड़ करते हुए पाए गए। दिन का खेल खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान स्टीव स्मिथ ने कबूल किया की ये टीम की योजना का एक हिस्सा था और सभी बड़े खिलाड़ियों को इस बारे में जानकारी थी। इस घटना के बाद स्मिथ को अपनी कप्तानी छोड़नी पड़ी और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा उनके खिलाफ जांच की जा रही है। वहीं उपकप्तान डेविड वॉर्नर को भी उपकप्तानी छोड़नी पड़ी। स्मिथ के ऊपर अभी एक टेस्ट का बैन लगाया गया है लेकिन उनकी सजा लंबी हो सकती है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...