COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

IPL: इंडियन प्रीमियर लीग के अब तक के 5 व्यक्तिगत गेंदबाज़ी प्रदर्शन

CONTRIBUTOR
14   //    29 Mar 2018, 08:45 IST

 

क्रिकेट, सामान्यतः बल्लेबाजों का खेल रहा है, बड़े बल्ले और छोटी सीमा रेखाओं में बदलाव का मतलब यह हुआ कि एकदिवसीय क्रिकेट में 300 से अधिक के स्कोर आम बात बन गये और टीमें नियमित रूप से टी -20 क्रिकेट में 200 के स्कोर को भी पार कर रही हैं।

आईपीएल में भी एक हद तक यही कहानी रही है। लेकिन कुछ ऐसे  क्षण भी रहे हैं जहां गेंदबाज़ों के व्यक्तिगत प्रदर्शन विपक्षी बल्लेबाजों पर हावी रहे हैं। यहाँ हम आईपीएल इतिहास के ऐसे ही शीर्ष पांच व्यक्तिगत गेंदबाजी प्रदर्शनों पर नज़र डाल रहे है।

# 5 लसिथ मलिंगा: 2011 में 5/13 बनाम दिल्ली डेयरडेविल्स




 

लसिथ मलिंगा को ऐसी सूची से बाहर रखना असंभव है। मलिंगा आईपीएल में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ हैं और उनके नाम पर 154 विकेट हैं। श्रीलंका का यह तेज़ गेंदबाज़ कई सालों से विपक्षी बल्लेबाजी क्रम के लिये खतरा रहा है लेकिन 2011 में उनका दिल्ली के खिलाफ प्रदर्शन विशेष रहा। 2011 आईपीएल के चौथे मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ 13 रन देकर उन्होंने 5 विकेट लिये थे।

मलिंगा ने घातक शुरुआत की और डेविड वॉर्नर का पारी की सिर्फ दूसरी गेंद पर एक तेज़ यॉर्कर से स्टंप्स उखाड़ दिया। एक ऐसी ही यॉर्कर से उन्मुक्त चुन्द को आउट करने में भी उन्हें क़ामयाबी मिली।

मलिंगा उस दिन ऐसे रंग में थे कि विस्फोटक भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग को यह समझ नही आया की उन्हें कैसे खेलना है, जब उनका दूसरा ओवर मेडेन गया था। उसके बाद उन्हें थोड़ी देर के लिए हटाया गया और 16वें ओवर में वापस लाया गया।

फिर से मलिंगा ने तीन गेंदों में दो विकेट लिए, इस बार मलिंगा ने वेणुगोपाल राव और मोर्ने मॉर्केल को पैवेलियन वापस भेजा।
1 / 5 NEXT
CONTRIBUTOR
Fetching more content...