Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

England vs India: टीम इंडिया को साउथैम्पटन में मिली हार के पांच बड़े कारण

Syed Hussain
ANALYST
Modified 20 Dec 2019, 18:48 IST
रविवार का दिन भारतीय क्रिकेट टीम के लिए एक और मायूसी लेकर आया जब इंग्लैंड के ख़िलाफ़ चौथे टेस्ट में हार के साथ ही भारत ने एक और सीरीज़ गंवा दी। साउथैम्पटन में कोहली एंड कंपनी को 60 रनों से हार का सामना करना पड़ा, यानी इंग्लिश सरज़मीं पर भारत की ये लगातार तीसरी टेस्ट सीरीज़ हार है। इसमें कोई शक नहीं है कि भारत की इस टेस्ट टीम ने अब तक इंग्लैंड को कड़ी टक्कर दी है और 3 में से दो मुक़ाबलों में नतीजा मेज़बान की बजाए मेहमान टीम के पक्ष में भी जा सकता था। बर्मिंघम में जहां विराट सेना लक्ष्य से 31 रन दूर रह गई थी तो साउथैम्पटन में भी मंज़िल से भारत 60 रन ही पीछे रहा।

ट्रेंटब्रिज में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में शानदार जीत के बाद सभी को उम्मीद थी कि भारतीय टीम साउथैम्पटन में भी जीत का डंका बजाएगी और सीरीज़ को रोमांचक मोड़ पर ले आएगी। टीम इंडिया ने इसकी शुरुआत भी बेहतरीन की लेकिन फिर मौक़ा गंवा दिया, चलिए एक नज़र डालते हैं उन पांच कड़ियों पर जहां कोहली एंड कंपनी से चूक हुई।

#5 अनफ़िट अश्विन को अंतिम-11 में शामिल करना




 

विराट कोहली ने अपनी कप्तानी में पहली बार 38 मैचों के बाद लगातार दो टेस्ट में एक ही टीम उतारी। जिसे क्रिकेट के जानकारों ने भी सही माना क्योंकि उन्हीं 11 खिलाड़ियों ने ट्रेंटब्रिज में भी जीत दिलाई थी। लेकिन क्रिकेट फ़ैंस या विशेषज्ञों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि आर अश्विन चोट से पूरी तरह उबरे नहीं थे। ट्रेंटब्रिज में अश्विन के पीठ में उठा दर्द साउथैम्पटन में भी पीछा नहीं छोड़ रहा था, जिसका असर उनकी गेंदबाज़ी पर साफ़ दिख रहा था। दूसरी पारी में बल्लेबाज़ी के दौरान तो अश्विन की ये चोट सभी के सामने तब उजागर हो गई जब उन्हें बल्लेबाज़ी करने में दिक़्क़त आ रही थी और उन्हें बेल्ट लगाकर खेलना पड़ा। अगर कोहली और कोच रवि शास्त्री ये जानते थे कि अश्विन पूरी तरह स्वस्थ्य नहीं हैं तो फिर उन्हें अंतिम-11 में क्यों खिलाया गया ?
1 / 5 NEXT
Published 03 Sep 2018, 11:22 IST
Advertisement
Fetching more content...