Create
Notifications

सीरीज में बराबरी के लिए इंग्लैंड को करनी होंगी ये 5 चीजें

SENIOR ANALYST
Modified 02 Dec 2016
पूरी टीम के अच्छे प्रदर्शन की वजह से भारत इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में 2-0 की लीड लेने में कामयाब रहा । वहीं बात अगर इंग्लैंड टीम की करें तो पहले मैच में अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद दूसरे मैच से उनका प्रदर्शन गिरता गया । इंग्लैंड के अंदर वो जीतने वाला जुनून नजर ही नहीं आया । मोहाली जैसी पिच पर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के बावजूद इंग्लिश टीम को हार का सामना करना पड़ा । इससे उनके बांग्लादेश दौरे की कड़वी यादें ताजा हो गयी होंगी । विशाखापट्टनम टेस्ट में जहां उन्हें अपने स्लो खेल का खामियाजा भुगतना पड़ा तो वहीं मोहाली टेस्ट में वो अश्विन और जाडेजा की फिरकी के जाल में फंस कर रह गए । मोहाली में बल्लेबाजी के लिए अनुकूल पिच पर भारतीय टीम ने इंग्लैंड को महज 283 रनों पर समेट दिया । जवाब में भारतीय टीम भी एक वक्त 200 रनों पर 6 विकेट गंवाकर मुश्किल में थी, लेकिन अश्विन, जाडेजा और जयंत यादव ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए भारत को मैच में 134 रनों की शानदार बढ़त दिला दी । यही बढ़त इंग्लैंड की हार की सबसे बड़ी वजह बनी । ये देखकर थोड़ा हैरानी हुई कि इंग्लिश बल्लेबाजों ने जिस भारतीय टॉप ऑर्डर को सस्ते में समेट दिया, उसी के लोअर ऑर्डर को आउट करने में उनके पसीने छूट गए । वहीं दूसरी तरफ ऐसा लगता है कि इंग्लिश टीम भारतीय स्पिनरों के जाल में उलझकर रह गयी और उसे कुछ समझ में नहीं आया । इंग्लैंड को अब अपने अगले 2 मैच मुंबई और चेन्नई में खेलने हैं और टीम सीरीज में 2-0 से पिछड़ रही है ऐसे में उनके लिए सीरीज में वापसी करना आसान नहीं होगा । लेकिन क्या उम्मीदों के उलट अगले  2 मैच जीतकर सीरीज में वापसी कर सकते हैं ? आइए हम आपको बताते हैं कुछ ऐसे ही अहम रणनीति के बारे में जिसे अपनाकर इंग्लिश टीम अच्छा प्रदर्शन कर सकती है ।   5. अच्छी साझेदारी और जुझारुपन- कई बार इस सीरीज में ऐसा हुआ है कि इंग्लिश टीम केवल एक या दो बल्लेबाजों पर निर्भर रही है । टीम के सभी बल्लेबाज एकजुट होकर प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं । इसका ताजा उदाहरण देखने को मिला मोहाली टेस्ट में, जहां पहली पारी में जॉनी बेरिएयस्टो तो दूसरी पारी में जोए रुट ही भारतीय गेंदबाजों का डटकर सामना कर सके । उन्हें टीम के बाकी बल्लेबाजों का साथ नहीं मिला, जिसके कारण लंबी साझेदारी नहीं हो पाई । और क्रिकेट में कहा जाता है कि जब तक आप साझेदारी नहीं करेंगे तब तक आप बड़े रन नहीं बना सकते । अगर इंग्लैंड को इस सीरीज में वापसी करनी है तो उनके बल्लेबाजों को जिम्मेदारी लेनी होगी और बड़ी पार्टनरशिप करनी होगी । 
1 / 5 NEXT
Published 02 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now