Create
Notifications

5 चीजें जो भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में आजमाना चाहिए

Rahul Pandey

2019 के आईसीसी क्रिकेट विश्वकप के लिये सभी देशों ने अपनी बेहतरीन टीम तैयार करने की कोशिश शुरु कर दी है।भारत इस समय कुछ अच्छी क्रिकेट खेल रहा है। न्यूज़ीलैंड भारतीय टीम का अगला मेहमान है और आने वाली एकदिवसीय श्रृंखला में एक रोमांचक भिड़ंत होने की उम्मीद की जा रही है।

यहां, हम पांच ऐसे संभावित रणनीतिक विकल्पों पर गौर करने जा रहे हैं जो कि भारतीय क्रिकेट टीम को आगामी एकदिवसीय श्रृंखला में न्यूजीलैंड के खिलाफ आजमाना चाहिए।

नई गेंद के साथ हार्डिक पांड्या

45fda-1507976842-800

हार्डिक पंड्या शार्ट गेंद के साथ बल्लेबाजों को परेशान करते है, वह हवा में तेज है और बल्लेबाजों को तेज गति से डराते है। शार्ट गेंद पंड्या की प्रमुख गेंद है।

लेकिन उनके पास एक सुंदर आउट स्विंगर भी है जो देर से स्विंग करती है और अक्सर बल्लेबाजों को चिंतित करती है जब से उन्होंने आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए अपना डेब्यू किया, तब से उन्होंने अपनी गेंदबाज़ी में थोड़ा गति जोड़कर एक गेंदबाज के रूप में खुद को विकसित किया है।

न्यूजीलैंड के 2016 के शुरूआती दौरे के दौरान, हार्डिक पंड्या पर नई गेंद से भरोसा किया गया था और उन्होंने कुछ खतरनाक गेंदबाज़ी करते हुए लगातार बल्लेबाजों को परेशान किया और धर्मशाला में 31 रनों पर तीन विकेट लिए। नई गेंद से उनका सबसे अच्छा उपयोग किया जा सकता है और नई गेंद के साथ उनका प्रयोग बुरा विचार नहीं होगा।

नंबर 4 पर दिनेश कार्तिक

dinesh-karthik-of-india-smashes-a-boundary-to-reach-his-half-win-the-picture-id170334755-800

पिछले कुछ समय से बेहतरीन फॉर्म में चल रहे कार्तिक को नंबर 4 पर आजमाया जा सकता है। उन्होंने टीम में सलेक्शन के लिये बहुत इंतजार किया और अब जबकि भारतीय टीम में उन्हें चुन लिया गया है तो उम्मीद यही होगी की उन्हें अंतिम 11 में खिला कर पर्याप्त मौके दिया जाए। जिससे पिछले काफी समय से नंबर 4 की खोज में लगी भारतीय टीम उनमें वो खिलाड़ी पा सके।

उन्होंने पिछले कुछ सालों से टीम में बल्लेबाज के रूप में भूमिका निभाई है और काफी अच्छे तरीके से प्रदर्शन किया है।71 एकदिवसीय मैचों में उन्होंने 27.93 के औसत से 7 अर्धशतकों के साथ 1313 रन बनाये हैं।धोनी का एक नये तरीके से प्रयोग

14a09-1507977122-800

एमएस धोनी को मध्य क्रम को नियंत्रित करना चाहिए, लेकिन थोड़ा अलग तरीके से। उन्हें पारी का निर्माण करने की जिम्मेदारी दी जानी चाहिए और एक फिनिशर के बजाय पारी बनाने के तौर पर काम करना चाहिए।

भारत के पास केदार जाधव और मनीष पांडेय के रुप में दो अच्छे खिलाड़ी हैं, जो एक फिनिशर की भूमिका निभा सकते और हार्डिक पांड्या निचले मध्य क्रम में फिट बैठते हैं। महेंद्र सिंह धोनी को बल्लेबाजी के क्रम में, संभवतः नंबर पांच पर खेलना चाहिए, ताकि वहां से वो पारी को बना सकें।

कुलदीप यादव का आक्रामक प्रयोग

kuldeep yadav

पिछले कुछ मैचों में अपने प्रदर्शन के चलते कुलदीप ने अपने लिये टीम के गेंदबाज़ी विभाग में एक जगह बना ली है। मगर देखा गया है कि उनका प्रयोग विराट मैच के दौरान काफी देरी से कर रहे हैं, हालाँकि अक्सर वो आते ही विकेट निकाल रहे हैं।

कुलदीप का प्रयोग ऐसे गेंदबाज़ के तौर पर भी करके आजमाया जा सकता है जो बीच के ओवरों से थोड़ा और पहले गेंदबाज़ी करने आये ओर पूरी उम्मीद है की जैसी उनकी गेंदबाज़ी है, वह और भी ज्यादा प्रभावी साबित होंगे।

यदि कुलदीप का ऐसा प्रयोग सफल रहा तो वह भी कुंबले की तरह भारतीय टीम के लिये काफी सारे विकेट लेने वाले अस्त्र बन सकते हैं।

बल्ले के साथ एक विस्फोटक शुरुआत

9366f-1506242874-800

पिछले काफी समय से एकदिवसीय क्रिकेट एक परिवर्तन से गुजर रहा है जिसमें टीमें एक निडर ब्रांड का क्रिकेट खेल रही हैं। टी20 की शैली से प्रेरित होकर, वे रन बनाने के हर अवसर का लाभ उठाना चाह रहे हैं। न्यूजीलैंड द्वारा शुरू और इंग्लैंड द्वारा अपनायी गयी, इस पद्धति ने पूरी तरह से क्रिकेट को बदल दिया है।

300 अब एक सामन्य स्कोर है क्योंकि पिचें दिन-प्रतिदिन बल्लेबाज़ी के माकूल होती जा रही हैं। गेंदबाज़ों का डर बल्लेबाजों के दिमाग से गायब हो गया है, और इसका एक मुख्य कारण टी -20 क्रिकेट का आगमन भी रहा है।

चूंकि भारतीय बल्लेबाजी लाइनअप एक मजबूत लाइनअप है, इसलिए भारतीय टीम को बोर्ड पर एक विशाल स्कोर बनाने के लिये एक तेज़ और आक्रमक शुरूआत करनी चाहिए। न्यूजीलैंड का गेंदबाजी आक्रमण अच्छा है और यह भारतीय बल्लेबाजों के लिये पॉवर हिटिंग को आजमाने का सही मौका है।

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...