मैच फिक्स करने वालों को दोबारा मौका नहीं मिलना चाहिए: केविन पीटरसन

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और बल्लेबाज केविन पीटरसन का मानना है कि क्रिकेट में मैच फिक्स करने वालों को या ड्रग्स लेने वालों को ज़िन्दगी भर के लिए प्रतिबंधित कर देना चाहिए और उन्हें दोबारा मौका नहीं मिलना चाहिए। उन्होंने मोहम्मद आमिर के सन्दर्भ में ये बात कही है। हालाँकि उन्होंने इंग्लैंड के खिलाड़ियों और फैन्स से ये भी कहा कि गुरुवार से शुरू हो रहे टेस्ट सीरीज से पहले वो आमिर को न उकसायें। पीटरसन ने द टेलीग्राफ, यूके से बातचीत के दौरान ये बात कही। पाकिस्तान ने 2010 में इंग्लैंड का दौरा किया था और उसी सीरीज में स्पॉट-फिक्सिंग में फंसने के कारण आमिर के ऊपर पांच साल का प्रतिबन्ध लगा था। केविन पीटरसन भी उस सीरीज में इंग्लैंड की टीम में शामिल थे। इस बार के दौरे के लिए आमिर की पाकिस्तान टीम में वापसी हुई है। पीटरसन ने आगे कहा कि ज़िन्दगी में हर किसी को दूसरा मौका मिलना चाहिए लेकिन खेल में ये बात लागु नही होती। उन्होंने कहा कि हम काफी खुशकिस्मत हैं कि उन्हें वो खेल खेलने का मौका मिला, जिसे वो पसंद करते हैं। एक प्रोफेशनल क्रिकेटर होना अपने आप में बड़ी बात है। लेकिन अब चूँकि आमिर की पाकिस्तान की टीम में वापसी हो गई है, तो पीटरसन ने कहा कि अगर वो बल्लेबाज होते तो उन्हें स्लेज करना आसान रहता लेकिन वो एक गेंदबाज हैं और उनके पास एक ताकत है। मैं कप्तान कुक और कोच ट्रेवर बैलिस से कहना चाहूँगा कि उन्हें स्लेज करने से बचें। अगर आमिर जल्दी-जल्दी में तीन विकेट ले लेते हैं तो फिर टीम बैकफूट पर आ सकती है।

App download animated image Get the free App now